GiridihJharkhand

#Lockdown: कोलकाता में फंसे गिरिडीह के डेढ़ सौ लोगों को लाने चेंबर ने वाहन भेजे, सीमा पर बंगाल पुलिस ने रोका

विज्ञापन
  • स्थानीय प्रशासन साढ़े छह सौ मजदूरों को लाने के लिए छत्तीसगढ़ भेज रही 20 बसें
  • बंगाल सरकार ने अप्रवासी मजदूरों को गिरिडीह भेजने से किया इनकार

Giridih: लॉकडाउन के कारण कोलकाता में फंसे गिरिडीह के करीब डेढ़ सौ लोगों को लाने के लिए शनिवार सुबह चेंबर ऑफ कॉमर्स की ओर से तीन बसें सहित दस वाहन रवाना किये गये. इन वाहनों को पहले ही मैथन डैम के पास ही बंगाल पुलिस ने रोक दिया.

डीसी की अनुमति के बाद बड़ा चौक में चैंबर के पदाधिकारी निर्मल झुनझुनवाला, प्रदीप अग्रवाल, संजय भूदोलिया, पिंटू जालान, मुकेश जालान, मनोज खंडेलवाल समेत अन्य पदाधिकारियों ने हरी झंडी दिखाकर बसों को रवाना किया था.

लेकिन चैंबर और प्रशासनिक सूत्रों की मानें तो कोलकाता से पहले ही मैथन डैम के समीप बंगाल सरकार की पुलिस ने चेकपोस्ट में ही वाहनों को रोक रखा है.

advt

जानकारी के अनुसार सभी वाहन दोपहर तक चेकपोस्ट में फंसे थे. इधर कोलकाता में फंसे शहर के लोगों की परेशानी जहां बढ़ती जा रही है वहीं बंगाल पुलिस ने गिरिडीह चैंबर द्वारा भेजे गये वाहनों को कोलकाता में घुसने की अनुमति अब भी नहीं दी है. चैंबर के पदाधिकारी लगातार बंगाल सरकार के संपर्क में हैं.

इसे भी पढ़ें : #Palamu: भाकपा माओवादी का सक्रिय सदस्य रितिक गिरफ्तार, 8 वर्ष की आयु में नक्सली जबरन उठा ले गये थे

छत्तीसगढ़ से मजदूरों को लाने भेजी जा रही 20 बसें

इधर अप्रवासी मजदूरों को लाने की अनुमति मिलने के बाद छत्तीसगढ़ के लिए 20 बसों को गिरिडीह से भेजने की तैयारी शनिवार शाम को की गयी.

झारखंड सहायता एप्प में जिले के 650 मजदूरों का रजिस्ट्रेशन होने के बाद प्रशासन ने यह तैयारी शुरू की. संभवत रविवार की सुबह सभी बसों को रवाना किया जायेगा.

adv

इधर जिले के अप्रवासी मजदूरों को भेजने से पश्चिम बंगाल सरकार ने साफ तौर पर इंकार कर दिया है. वैसे इंकार करने की सूची में यूपी सरकार के नाम होने की बात प्रशासनिक सूत्रों से पता चली है.

लेकिन प्रशासनिक सूत्र यह भी बता रहे हैं कि यूपी सरकार प्रवासी मजदूरों को भेजने के मामले में चार मई के बाद फैसला लेकर स्थानीय प्रशासन को सूचना देगी.

इसे भी पढ़ें : पलामू: मृतकों के नाम पर हो रहा राशन उठाव, निलंबित डीलर ने बना रखे हैं मृत पिता-दादा सहित परिवार के सदस्यों के पांच राशन कार्ड

बाहर से लौटे 11 मजदूरों को होम क्वारेंटाइन किया गया

शनिवार सुबह जिले के 11 मजदूर गिरिडीह पहुंचे. उन्हें होम क्वारेंटाइन के लिए घर पर रहने का सुझाव देते हुए घर भेज दिया गया .

शनिवार को स्वास्थ विभाग ने 34 नये संदिग्धों के सैंपल जांच के लिए धनबाद पीएमसीएच भेजे हैं. इसमें एक नर्सिंग होम में भर्ती प्रसूता बतायी जा रही है.

जानकारी के अनुसार महिला बच्चे को जन्म देने के बाद करीब आठ दिनों से नर्सिंग होम में भर्ती है. जुकाम, खांसी और सांस लेने में तकलीफ होने की शिकायत पर महिला का सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया.

इसे भी पढ़ें : मजदूरों की वापसी: पूर्व BJP नेता ने की CM हेमंत की सराहना, कहा- भाजपा को श्रेय लेने की राजनीति नहीं करनी चाहिये

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button