JharkhandRanchi

#Lockdown: वापस लौटते प्रवासी श्रमिकों की मदद के लिए भाजपा ने बनायी हाईवे एवं क्वारेंटाइन रिलीफ कमिटी

Ranchi : कोरोना संकट के बीच झारखण्ड वापस लौट रहे प्रवासियों की मदद के लिए भाजपा ने दो समितियां बनायी है. राजमार्ग रिलीफ कमिटी एवं क्वारेंटाइन सेंटर रिलीफ कमिटी हाइवे से लेकर क्वारेंटाइन सेंटरों में सहायता कार्य करेगी.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश के अनुसार अब राजमार्गों एवं क्वारेंटाइन सेंटरों में विशेष चिंता करने की जरुरत है.

लॉकडाउन में थोड़ी ढील देने और श्रमिक ट्रेनों के खुलने से हजारों प्रवासी मजदूर अब अपने गांव घर की ओर लौट रहे हैं. ऐसे में पार्टी ने राजमार्ग रिलीफ कमिटी एवं क्वारेंटाइन सेंटर रिलीफ कमिटी का गठन किया है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ें – #Lockdown: झारखंड के 1700 प्रवासी मजदूर बेंगलुरु के एक मैदान में रखे गये, भोजन की व्यवस्था तक नही (देखें Video)

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

प्रदेश से लेकर मंडल स्तर तक कार्यकर्ता की भूमिका

दीपक प्रकाश के मुताबिक कोरोना संकट के बीच लॉकडाउन के तीनों चरणों मे कार्यकर्ताओं ने बढ़ चढ़कर गरीबों, मजदूरों की सेवा की है.

हजारों लोगों को प्रतिदिन भोजन, राशन के साथ मास्क, सैनिटाइजर भी उपलब्ध कराया गया है. अब वापस लौट रहे श्रमिकों को भी मदद किये जाने की तैयारी है.

राष्ट्रीय नेतृत्व के निदेश पर पार्टी ने  राजमार्ग रिलीफ कमिटी और कोरेन्टीन सेंटर रिलीफ कमिटी का गठन किया है. इसके माध्यम से पार्टी कार्यकर्ता सेवा कार्य करेंगे.

इन कमिटियों के जरिये प्रदेश के शीर्ष से लेकर जिला एवं मंडल स्तर तक के कार्यकर्ता जुड़कर सेवा कार्य करेंगे. राज्य सरकार प्रवासियों के लिए कोरेन्टीन सेंटर के समुचित प्रबंधन एवं सुविधा पर ध्यान दे.

इसे भी पढ़ें – #Garhwa के क्वारंटाइन सेंटर से भूख से तड़पते 20 मजदूर दीवार फांदकर भागे, सड़क जाम किया

कोरोना संकट में भी अंत्योदय का लक्ष्य

प्रदेश संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह के अनुसार कोरोना वैश्विक महामारी ने गरीबों, मजदूरों को सबसे ज्यादा प्रभावित किया है. महामारी से बचने की विवशता और आर्थिक, पारिवारिक संकट ने उन्हें गांव घर की ओर लौटने को मजबूर भी किया है.

सरकार ने परिस्थितियों की गभीरता को समझते हुए आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने की कोशिश की हैं. परंतु अब भी हजारों लोग पैदल ही सैकड़ों मील की यात्रा पर निकल पड़े हैं.

ऐसे में भाजपा ने उनके यात्रा मार्ग के साथ कोरेन्टीन सेंटर में सुविधा उपलब्ध कराने का प्रयास प्रारंभ किया है. राजमार्ग रिलीफ कमिटी और कोरेन्टीन सेंटर रिलीफ कमिटी का गठन कर उसके माध्यम से सेवा कार्य का विस्तार किया गया है.

भोजन पैकेट और एम्बुलेंस सुविधा

धर्मपाल सिंह के अनुसार भाजपा कार्यकर्ता राजमार्ग पर अपने घरों की ओर लौट रहे कार्यकर्ताओं को भोजन पैकेट,  चूड़ा गुड़ सत्तू पीने का पानी उपलब्ध कराएंगे.

जिन मजदूरों, गरीबों के पैरों में चप्पल जूते नहीं होंगे, उन्हें चप्पल भी उपलब्ध कराया जाएगा. रास्ते में किसी प्रकार की दुर्घटना होने पर उनके उपचार, एम्बुलेंस आदि के लिए भी राजमार्ग रिलीफ कमिटी के कार्यकर्ता सहयोग करेंगे.

साथ ही छोटी दूरी के लिये कार्यकर्ता जरूरतमंद मजदूरों को आवश्यकतानुसार वाहन की सुविधा भी उपलब्ध कराएंगे.

इसे भी पढ़ें – #PMaddresstonation : पीएम मोदी ने लॉकडाउन 4 का किया ऐलान, कहा – संकट को अवसर में बदल कर भारत को आत्मनिर्भर बनायेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button