Hazaribagh

नगवां टोल प्लाजा में कर्मियों की बहाली प्रक्रिया में भेदभाव से स्थानीय युवाओं में असंतोष

विधायक मनीष जयसवाल से मिला स्थानीय युवाओं का प्रतिनिधिमंडल

Hazaribag: नगवां टोल प्लाजा चालू होने के साथ ही विवाद भी शुरू होने लगा है. स्थानीय युवाओं को रोजगार नहीं मिलने से लोग नाराज हैं. इसको लेकर स्थानीय बेरोजगार युवाओं का एक शिष्टमंडल विधायक मनीष जयसवाल से मिलकर अपने दर्द को बयां करते हुए मदद की गुहार लगायी हैं.

Advt

बेरोजगार युवाओं का आरोप है कि कुछ स्थानीय लोगों ने टोल कर्मी के रूप में जिनको बहाल कराया है उसमें अत्यधिक बड़े लोग शामिल हैं. इतना ही नहीं एक ही परिवार के एक से अधिक लोगों को नियोजित कर दिया गया है. इससे स्थानीय गरीब तबके के बेरोजगार युवाओं में असंतोष है.

विधायक जायसवाल ने युवाओं की समस्याओं जानने के बाद उन्हें आश्वस्त करते हुए कहा कि जिन्होंने भी मध्यस्थता कराई थी उनसे बात करके समस्या का हल करने का हरसंभव प्रयास करेंगे. बताते चलें कि बुधवार को हजारीबाग जिले के इचाक प्रखण्ड अंर्तगत नगवां टोल टैक्स का उदघाटन पूर्व सांसद भुनेश्वर प्रसाद मेहता ने किया था,जिसमे सभी दलों के नेता के साथ आंदोलन से जुड़े लोग शामिल रहे थे. जिसमें कहा गया था कि टोल टैक्स में स्थानीय लोगों को रोजगार दिया जाएगा.

Advt

Related Articles

Back to top button