न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

TMC विधायक के भाई को पार्टी में शामिल करने पर आपस में उलझे भाजपाई, जमकर तोड़फोड़ की

बाबुल सुप्रियो ने भी शनिवार को कहा था कि फिलहाल किसी भी तृणमूल कर्मी को पार्टी में शामिल नहीं किया जायेगा.

555

Durgapur : दुर्गापुर गांधी मोड़ स्थित सर्कस मैदान में आयोजित भाजपा की जनसभा के दौरान बाराबनी के तृणमूल विधायक विधान उपाध्याय के चचेरे भाई मलय उपाध्याय को पार्टी में शामिल किये जाने को लेकर भाजपा कर्मियों ने भारी हंगामा किया. जमकर कुर्सियों में तोड़फोड़ की गयी.

कर्मियों ने इसके लिए पार्टी जिलाध्यक्ष लखन घड़ुई को सीधे जिम्मेवार ठहराया. सनद रहे कि आसनसोल के सांसद सह केंद्रीय राज्यमंत्री बाबुल सुप्रियो ने भी शनिवार को कहा था कि फिलहाल किसी भी तृणमूल कर्मी को पार्टी में शामिल नहीं किया जायेगा. जिन पार्टी कर्मियों ने उनके खिलाफ संघर्ष किया है, उन्हें ही प्रोत्साहित किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : पलामू : बंद खदान में नहीं है घेराबंदी, नहाने गयी बच्ची की डूबने से मौत, पांच दिन में दूसरी घटना

नेतृत्व से करेंगे शिकायत 

उन्होंने कहा कि दल बदल कराने पर वे इसकी शिकायत पार्टी नेतृत्व से करेंगे. विरोध का नेतृत्व कर रहे भाजपा कर्मी बप्पा माझी ने बताया कि मलय उपाध्याय तृणमूल करते थे. वह इलाके में बाराबनी के विधायक के साथ मिलकर भाजपा कर्मियों पर अत्याचार किया करते थे. साथ ही इलाके में अवैध कोयला, लोहा, बालू के करोबार के साथ लिप्त हैं. इस तरह के लोगो को पार्टी में शामिल करने से पार्टी का नाम बदनाम होगा.

उन्होंने बताया कि गोरंडी में भी मंत्री बाबुल सुप्रियो की सभा के दौरान वह पार्टी में शामिल होना चाहते थे लेकिन वहां पर लोगो का विरोध के कारण वह शामिल नही हो सके. पार्टी नेतृत्व इस पर विचार करे अन्यथा पार्टी कर्मी सामूहिक इस्तीफा देंगे.

इसे भी पढ़ें : गिरिडीह : फर्नीचर मिस्त्री के घर के शौचालय में मिली लोडेड पिस्तौल व बम बनाने का कच्चा माल

‘कुछ समय से पार्टी के लिए कर रहे थे काम’

Related Posts
SMILE

भाजपा जिला अध्यक्ष लखन घोरुई ने बताया कि मलय उपाध्याय पिछले कुछ माह से पार्टी कर्मी के रूप में कार्य कर रहे थे. पार्टी के वरीय नेताओं से चर्चा के उपरांत रविवार को उन्हें पार्टी में शामिल किया गया. उन्हें साधारण सदस्य रखा गया है. किसी भी सदस्य को उसकी योग्यता के आधार पर ही उन्हें पार्टी का दायित्व दिया जायेगा. कुछ पार्टी कर्मियों ने इसका विरोध किया. जल्द सब कुछ सामान्य हो जायेगा.

बाराबनी मण्डल दो के कर्मियों का कहना है कि पार्टी में उनके शामिल होने से संगठन को फायदा होने के बजाय नुकसान होगा. जिसके कारण पार्टी हित में इसका विरोध किया गया.

इसे भी पढ़ें : नानी के साथ सोयी बच्ची को बोरे में बांधकर ले जा रहा युवक पुलिस के हत्थे चढ़ा

जिलाध्यक्ष को हटाने की मांग

दो दिवसीय चिंतन बैठक के समापन के बाद भाजपा की गुटबाजी सतह पर आ गयी. रविवार को पिंटु सेंन के नेतृत्व में भाजपा जिला अध्यक्ष लखन घड़ुई हटाओ का नारा लगते हुए प्रदर्शन किया गया.

सेन ने बताया कि बीते दस साल से शहर में भाजपा कर रहे है उस समय पार्टी में उनके अलावा कुछ ओर लोग पार्टी का काम देख रहे थे. दुर्गापुर नगर निगम के चुनाव में दो बार भाजपा टिकट पर चुनाव लड़े लेकिन आज उनके पार्टी में कोई जगह नहीं है. उन लोगो की जगह भाजपा में है जो विभिन्न जगहों से वसूली कर पार्टी नेता का पॉकेट गरम करते हैं. भाजपा जिला अध्यक्ष लखन का व्यवहार बहुत ही खराब है. कोई भी कार्यक्रम की सूचना उन लोगों को नही देते हैं. जिला अध्यक्ष को हटाना होगा.

राज्य भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने टिप्पणी करते हुए कहा कि यह लोग पार्टी के लोग हो नही सकते, क्योकि जो लोग पार्टी के लिए काम करते हैं वे लोग इस तरह जनता के सामने प्रदर्शन नही करते हैं. जिलाध्यक्ष ने कहा कि ये लोग पार्टी के कर्मी नहीं है. सभी तृणमूल के कर्मी हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: