न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आंधी-पानी में गुल हो गयी बिजली, राजधानी सहित कई जिलों में छाया अंधेरा, 352 मेगावाट बिजली सरेंडर

403

Ranchi: बिजली वितरण निगम का सिस्टम दुरुस्त नहीं होने के कारण बिजली आपूर्ति हिचकोले मार रही है. शनिवार की शाम से शुरू हुई आंधी-पानी के कारण पूरे प्रदेश की बिजली व्यवस्था चरमरा गयी. पिछले चार साल से 24 घंटे बिजली देने का दावा पूरी तरह से फेल होता नजर आ रहा है. आये दिन आंधी-पानी से तीन से चार घंटे बिजली आपूर्ति ठप रहती है. शनिवार को भी यही हाल रहा. शाम पांच बजे के बाद से राजधानी सहित कई जिलों में आपूर्ति ठप हो गई. खबर लिखे जाने तक राजधानी सहित कई जिलों में बिजली आपूर्ति ठप थी.

इसे भी पढ़ें – पलामू संसदीय सीट के लिए पांचवे दिन सात नामांकन, भाजपा-राजद प्रत्याशी ने जनसभा में दिखायी ताकत

सुबह से दोपहर दो बजे तक 1071 मेगावाट की थी डिमांड, शाम पांच बजे बाद हो गई 632 मेगावाट

सुबह से दोपहर दो बजे तक पूरे प्रदेश में 1071 मेगावाट बिजली की डिमांड थी. जबकि 1050 मेगावाट बिजली उपलब्ध थी. इस कमी को पूरा करने के लिए 21 मेगावाट और बिजली ली गई, लेकिन शाम पांच बजे के बाद आंधी-पानी के कारण वितरण निगम को बिजली सरेंडर करनी पड़ी. वजह यह है कि सिस्टम दुरुस्त नहीं है. आंधी पानी में तार टूटने और प्लांट ठप होने के कारण बिजली आपूर्ति ठप कर दी जाती है.

इसे भी पढ़ें – एसीबी की टीम ने पुलिस निरीक्षक को तीन हजार रुपये रिश्वत लेते किया रंगे हाथ गिरफ्तार

टीवीएनएल की एक यूनिट से उत्पादन ठप

टीवीएनएल की एक यूनिट से उत्पादन ठप है. जबकि सिकिदिरी पानी की कमी से जूझ रहा है. शाम में आंधी-पानी के कारण सेंट्रल एलोकेशन से 219 मेगावाट ही बिजली ली गयी, जबकि सुबह से दोपहर तक 436 मेगावाट बिजली ली जा रही थी. बिजली वितरण निगम के अनुसार मौसम खराब होने के कारण बिजली सरेंडर की गयी.

सुबह नौ बजे क्या थी पावर की स्थिति

टीवीएनएल- 170 मेगावाट

सिकिदिरी- 00

सीपीपी- 09 मेगावाट

इंलैंड पावर: 52 मेगावाट

सेंट्रल एलोकेशन- 436 मेगावाट

आधुनिक-186 मेगावाट

एसइआर- 48 मेगावाट

आइइएक्स-149 मेगावाट

SMILE

ओवर ड्रावल-21 मेगावाट

कुल उपलब्ध बिजली: 1071 मेगावाट

शाम पांच बजे के बाद बिजली की स्थिति

टीवीएनएल- 163 मेगावाट

सिकिदिरी-00 मेगावाट

सीपीपी-16 मेगावाट

इंलैंड पावर: 30 मेगावाट

सेंट्रल एलोकेशन-219 मेगावाट

आधुनिक-186 मेगावाट

एसइआर- 38 मेगावाट

आइइएक्स- 20 मेगावाट

कुल उपलब्ध बिजली: 632 मेगावा

सरेंडर: 352 मेगावाट

इसे भी पढ़ें – पलामू: निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा करने वाले पूर्व सांसद जोरावर राम गये जेल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: