न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गृह विभाग ने जारी की 29 इनामी नक्सलियों की लिस्ट, सुधाकरण पर एक करोड़ का इनाम

नक्सलियों की पकड़ के लिये ग्रामीणों से भी सहयोग की अपील की गयी है.

281

Palamu : झारखंड से नक्सलियों के सफाये के लिए सरकार की ओर से कई स्तरों पर कार्रवाई की जा रही है. एक ओर नक्सलियों के खोज के लिये अर्द्धसैनिक बलों के जवान पूरी मुश्तैदी से लगे हुए हैं. तो दूसरी ओर गृह विभाग की ओर से नक्सलियों को गिरफ्त में लेने के लिये लातेहार-गढ़वा व छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती बूढ़ा पहाड़ के 29 कुख्यात नक्सलियों पर ईनाम की राशि रखी गयी है. साथ ही नक्सलियों की पकड़ के लिये ग्रामीणों से भी सहयोग की अपील की गयी है. प्रशासन की ओर से  इनामी नक्सलियों का पोस्टर सार्वजनिक किया गया है.

सुधाकरण पर एक करोड़ पत्नी नीलिमा पर 25 लाख का इनाम

गृह विभाग के आदेश पर पुलिस ने बूढ़ा पहाड़ के 29 कुख्यात नक्सलियों पर पांच लाख रूपये से लेकर एक करोड़ तक इनाम की घोषणा की है. इनमें नक्सली नेता सुधाकरण पर एक करोड़ और उसकी पत्नी नीलिमा पर 25 लाख रूपये का इनाम रखा गया है. ओगू सतवाजी उर्फ बुरयार उर्फ सुधाकर उर्फ किरण के नाम से जाने जाना वाला सुधाकरण तेलंगाना के अदीलाबाद का निवासी है. जबकि उसकी पत्नी नीलिमा भी तेलंगाना के वरांगल की रहने वाली है. वह बेदुगुला अरूणा, जया, पदमा, माधव काका के नाम से भी जानी जाती है.

वहीं इनामी नक्सलियों में सबसे कम 5 लाख रूपये का इनाम अमरजीत यादव, शिवपूजन यादव, सहदेव यादव और आलोक यादव पर रखा गया है. अमरजीत गया के बाराचट्टी थाना क्षेत्र का रहने वाला है. बूढ़ा पहाड़ से ही जुड़े छोटू सिंह खरवार, बुद्धेश्वर उरांव, इंदल गंझू, सर्वजीत यादव, रमेश गंझू, मुराद जी उर्फ गुरू जी पर 15-15 लाख रूपये का इनाम घोषित है. इसी तरह रवीन्द्र गंझू, संतू भुईयां, कालिकाजी, भवानी उर्फ सुजाता, मनेश्वर गंझू, बलराम उरांव, मृत्युंजय भुइयां, नीरज सिंह खरवार, चन्द्रभूषण यादव, कुंदन यादव, अरविन्द्र भुइयां पर 10-10 लाख रूपये का इनाम घोषित किया गया है. इन सबके अलावा संदीप यादव, सौरभ यादव, संतोष उर्फ विश्वनाथ, उमेश यादव, गौतम पासवान, अजीत उरांव पर 25-25 लाख रूपये का इनाम घोषित किया गया है.

इस बारे में गढ़वा की पुलिस अधीक्षक शिवानी तिवारी ने कहा कि पुलिस लगातार नक्सलियों पर दबाव बना रही है. साथ ही कुख्यात इनामी नक्सलियों की सूची जारी करते हुए उन्होंने आम लोगों से भी अपील की है कि वे इन नक्सलियों की सूचना दें और  उनका नाम व पता गोपनीय रखा जायेगा. इसके अलावा इनाम की राशि भी उन्हें दिया जायेगा. पुलिस अधीक्षक ने नक्सलियों से भी अपील की है कि वे आत्मसमर्पण कर मुख्यधारा में लौट आयें अन्यथा परिणाम भुगतने को तैयार रहें.

इसे भी पढ़ें – ब्लैक लिस्टेड कंपनी से अंडा खरीद रही है झारखंड सरकार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: