JharkhandPakur

लाइनमैन को अवैध वसूली करना पड़ा महंगा, बंधक बनाए जाने के बाद लौटाए पैसे

Pakur : जिले के सदर ब्लॉक के अंजना गांव में लाइनमैन रंजीत चौधरी को बिजली उपभोक्ताओं ने लगभग दो घंटे तक बंधक बनाये रखा. उपभोक्ताओं ने रंजीत पर पुलिस का भय दिखाकर अवैध वसूली व पैसे नहीं देने पर जेल भेजने की धमकी देने का आरोप लगाया. इधर अवैध पैसे उगाही की सूचना प्रखंड के बीस सूत्री सदस्य नरेन रविदास, वार्ड सदस्य केराउल सेख, पीएलवी अब्दुल अलीम को मिली. उक्त लोगों ने इसकी सूचना कार्यपालक अभियंता विधुत विभाग समीर कुमार सहित अभियंता को दी.

लाइनमैन से मांगा जाएगा स्पष्टीकरण

Catalyst IAS
ram janam hospital

इस मामले के बारे में कार्यपालक अभियंता ने बताया कि रंजीत कुमार चौधरी को ग्राम स्वराज्य अभियान टू के तहत सात गांवों का सर्वे दिया गया है. सर्वे में अबतक कितने कनेक्शन किये गए हैं और कितने कनेक्शन अबतक नहीं हो पाए हैं यह देखना था. लेकिन उनके द्वारा अवैध वसूली करने का मामला सामने आया है. अगर अवैध वसूली की जा रही है तो यह बिल्कुल गलत है. इस बारे में उनसे स्पष्टीकरण मांगा जाएगा.

 

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

लाइनमैन को बनाया बंधक

इधर गांव वालों को जब अवैध वसूली की जानकारी मिली तो सभी वसूली की राशि वापस मांगने पर अड़ गए. उन्होंने लाइनमैन रंजीत को बंधक बना लिया. ग्रामीणों का कहना था कि जबतक राशि वापस नही करेंगे तबतक लाइनमैन को जाने नहीं दिया जाएगा. उन्होंने लाइनमैन के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. काफी देर तर हंगामा होता रहा. बीस सूत्री सदस्य निरेन रविदास सहित वार्ड पार्षद के समझाने के बाद मामला शांत हुआ. साथ ही लाइनमैन रंजीत ने अवैध रूप से वसूली गयी राशि को वापस किया. बीस सूत्री सदस्य ने रंजीत को चेताते हुए कहा कि अगर गरीबों से अवैध वसूली की मांग की जाती है तो इसकी लिखित शिकायत उपायुक्त सहित वरीय अधिकारियों से की जायेगी.

इन लोगों से की गयी अवैध वसूली

सदर ब्लॉक के अंजना गांव के अनिकुक सेख दो सौ, वाहिदुर सेख एक सौ, मंतारुल सेख दो सौ, अकील अहमद दो सौ, अब्दुर रहीम से एक सौ रुपये के अलावे पांच किलो प्याज भी ली गई. उक्त सभी लोगों को रंजीत कुमार चौधरी ने अवैध वसूली की राशि वापस किया और उपस्थित लोगों ने उन्हें दोबारा इस तरह का काम नहीं करने को कहा.

 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

Related Articles

Back to top button