National

हार का सबक : कांग्रेस की नयी रणनीति, पीएम मोदी पर सीधे हमले नहीं करेगी पार्टी

NewDelhi : कांग्रेस पीएम मोदी और उनकी सरकार पर सीधे हमला करने से बचेगी. 2019 के आम चुनाव में करारी हार से कांग्रेस ने सबक सीखा है. सूत्रों के अनुसार  कांग्रेस की रणनीति है कि पीएम मोदी और मोदी सरकार को घेरने की बजाय भाजपा या भाजपा  सरकार कहकर सरकार को घेरा जायेगा.

बता दें कि  है कि मोदी सरकार के पहले टर्म में कांग्रेस सीधे पीएम नरेंद्र मोदी और मोदी सरकार कहकर हमलावर होती रही.  इसी क्रम में राफेल मामले में कांग्रेस ने पीएम मोदी के खिलाफ चौकीदार चोर है… का नारा बुलंद किया.  चुनावी नतीजों के बाद   कांग्रेस का मानना है कि पीएम मोदी पर सीधे हमले का नुकसान हुआ है.

इसलिए कांग्रेस फिलहाल सीधे हमले या टकराव से बचने की कोशिश करेगी. साथ ही कांग्रेस को लग रहा है कि पीएम मोदी और उनके नेतृत्व में भाजपा जिस तरह से विशालकाय बहुमत से जीत कर आयी  है, उसके चलते माहौल उनके पक्ष में है.

इसे भी पढ़ेंः  17वीं लोकसभा का पहला संसदीय सत्र 17 जून से,  केंद्र सरकार ने  कांग्रेस से सहयोग मांगा 

पीएम मोदी पर नकारात्मक हमले से कांग्रेस को नुकसान

ऐसे में अगर पीएम मोदी पर नकारात्मक हमला या घेराव होता है तो कांग्रेस को नुकसान हो सकता है.  साथ ही कांग्रेस की रणनीति है कि वह किसी व्यक्ति विशेष पर या निजी हमला करने से बचेगी.  कांग्रेस  निजी हमले केवल तभी करेगी,  जब कोई निजी मामला होगा या ऐसा कोई मुद्दा होगा, जो किसी व्यक्ति से जुड़ा होगा.

सूत्रों के अनुसार  पार्टी ने तय किया है कि वह आम लोगों के जीवन या उनसे जुड़े मसले उठायेगी, जिससे वह लोगों के बीच एक सकारात्मक विपक्ष की भूमिका को रख सके.हार के बाद अगर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बातों पर ध्यान दिया जाये तो वह लगातार सकारात्मक व रचनात्मक विपक्षी भूमिका निभाने की बात करते रहे हैं.

बता दें कि हाल ही में कांग्रेस की इस बदली रणनीति के बारे में जब कांग्रेस से पूछा गया था तो पार्टी प्रवक्ता जयवीर शेरगिल का कहना था कि यह समय तू-तू मैं-मैं का नहीं है.  कांग्रेस संसद के भीतर व बाहर जिम्मेदार व सशक्त विपक्ष की भूमिका निभायेगी. वह आम जनता से जुड़ी समस्याओं को उठायेगी.

इसे भी पढ़ेंः  मोदी सरकार ने किया मंत्रिमंडल की विभिन्न समितियों का गठन, रोजगार के सृजन पर विशेष ध्यान

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close