JharkhandRanchi

हेमंत सोरेन के नेतृत्व में चुनाव लड़ेंगे वामदल : भुवनेश्वर मेहता

विज्ञापन

Ranchi : विधानसभा चुनाव में वामदलों ने झामुमो के साथ चुनाव लड़ने का फैसला किया है. लोकसभा चुनाव में महागठबंधन का नेतृत्व कांग्रेस ने राज्य में किया था. लेकिन विधानसभा चुनाव में राज्य में महागठबंधन का नेतृत्व झामुमो करेगी. ऐसे में निर्णय लिया गया है कि वामदल हेमंत सोरेन के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी. उक्त बातें सीपीआई के पूर्व सांसद भुवनेश्वर मेहता ने कहीं.

वे मंगलवार को प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि वामदलों के साथ हेमंत सोरेन की बैठक 25 जुलाई को हुई थी. जिसमें ये निर्णय लिया गया था कि वामदल झामुमो के साथ जायेगी. इसके लिए छह विधानसभा क्षेत्र को भाकपा की ओर से चिन्हित किया गया है.

advt

जहां से भाकपा चुनाव में उम्मीदवार देगी. इन क्षेत्रों में बड़कागांव, बरकट्टा, चतरा, बेरमो, नाला, बहरागोड़ा या घाटशिला होंगे. इन्होंने जानकारी दी कि उक्त सूची हेमंत सोरेन को दी जायेगी. उनकी हामी के बाद ही पार्टी आगे निर्णय लेगी.

इसे भी पढ़ें – जानलेवा बनी रांची की स्ट्रीट लाइट : 150 में 120 के खुले हैं बॉक्स, लटक रहे नंगे तार

कांग्रेस से बात तक नहीं करेगी वामदल

लोकसभा चुनाव में वामदलों को महागठबंधन से अलग करने का जिक्र करते हुए भुवनेश्वर ने कहा कि इस चुनाव में कांग्रेस महागठबंधन में शामिल हो या न हो. लेकिन वामदल की ओर से कांग्रेस से कोई बात नहीं की जायेगी.

adv

जिस तरह से लोकसभा चुनाव में वामदलों के साथ कांग्रेस ने रूख अपनाया था, उससे स्पष्ट है कि पार्टी की नीति राज्य में सही नहीं है. इन्होंने कहा कि पूर्व में भाकपा की ओर से 14 सीटें चिन्हित की गयी थीं. इसके बाद राज्य कार्यकारिणी की बैठक में छह सीटों पर सहमति बनी. अब इन सीटों का प्रस्ताव हेमंत सोरेन को दिया जायेगा.

कृषि मंत्री की समझ सोयी हुई है

राज्य में बारिश और खेती का जिक्र करते हुए इन्होंने कहा कि 80 प्रतिशत बीचड़े बोये गये हैं. इस साल बारिश काफी देर से हो रही है. जबकि ये बीचड़े अब बोये भी नहीं जा सकते. वहीं इस संबध में कृषि मंत्री का बयान आया है कि सरकार 15 अगस्त के बाद सुखाड़ पर चर्चा करेगी.

ऐसे में लगता है कि कृषि मंत्री की समझ सोयी हुई है. कृषि मंत्री को इस बात की समझ नहीं की जब बीचड़े बोये ही नहीं गये हैं, तो वो मर गये होंगे. ऐसे में राज्य को सुखाड़ क्षेत्र घोषित करना चाहिये. पार्टी की योजना बताते हुए इन्होंने कहा कि 19 से 26 अगस्त तक राज्य को सुखाड़ क्षेत्र घोषित करने के लिए जिला स्तर पर अभियान चलाया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – जानलेवा बनी रांची की स्ट्रीट लाइट : 150 में 120 के खुले हैं बॉक्स, लटक रहे नंगे तार

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close