Crime NewsJharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

जानें, कैसे किक्रेट मैच में सट्टा खेलना बना अजीत की मौत का कारण, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

दोस्त से लिये हुए 25 हजार के कर्ज के दबाव में दे दी जान

Ranchi: छह दिन से लापता बीबीए के छात्र अजीत कुमार का शव कल एक कुंए से किया गया. उसके शरीर पर किसी भी प्रकार के चोट के निशान नहीं मिले थे. पुलिस आशंका जता रही है कि छात्र कर्ज का पैसा नहीं लौटाने पर तनाव आ गया था जिसके बाद उसने कुंए कूद कर आत्महत्या की होगी. हालांकि पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मामला साफ हो सकेगा.

क्रिकेट खेलने की बात कहकर घर से निकला था अजीत

परिजनों ने बताया कि अजीत अपने घर से क्रिकेट खेलने की बात कहकर निकला था. देर शाम तक जब वह नहीं लौटा तो परिजन खोजबीन की. मगर उसका पता नहीं चल पाया. बीआईटी मेसरा ओपी ने परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी था. इसके बाद पुलिस लापता अजीत की तलाश में जुट गयी. इसी बीच 26 जनवरी को पुलिस को यह खबर मिली कि गेतलसूद स्थित कुंए में एक लड़के का शव तैर रहा रहा है. सूचना मिलते ही मेसरा ओपी प्रभारी दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे. परिजनों ने अजीत के रूप में शव की पहचान की. इसके बाद पुलिस की टीम ने शव को अपने कब्जे में लेकर रिम्स में पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया. मामले में पुलिस ने यूडी केस दर्ज किया गया है.

इसे भी पढ़ें-  रिम्स जीबी की बैठक : नर्सिंग स्टाफ की कमी को दूर करने के लिए नियुक्ति विज्ञापन निकालने पर होगा निर्णय

सुबह से ही शराब के नशे में था अजीत

अजीत अपने घर से 22 जनवरी को निकला था. जानकारी के अनुसार उसने सुबह से ही काफी शराब पी रखी थी. उसके दोस्तों ने पुलिस को बताया कि शराब पीने की वजह से वह कई बार उलटी भी कर चुका था. हालांकि उसे दोस्तों ने घर जाने की भी सलाह दी थी. मगर उसने किसी की नहीं सुनी. इसी दौरान उसने शाम करीब चार बजे अपनी मां को फोन किया और कहा कि अब वह कभी घर नहीं लौटेगा. इसके बाद मां ने उसकी खोजबीन शुरू की.

इसे भी पढ़ें-  हाइवा ने मोटरसाइकिल को लिया चपेट में, दो युवकों की मौत

दोस्त से लिया था 25 हजार का कर्ज

मेसरा ओपी की पुलिस ने बताया कि अजीत किक्रेट मैच में सट्टा भी लगाया करता था. उसने अपने एक दोस्त से 25 हजार रुपए कर्ज लिया था. कर्ज वापस करने के लिए दोस्त अजीत पर लगातार दबाव बना रहा था. जिस दिन अजीत ने आत्महत्या की. उस दिन भी उसने चार से पांच बार अजीत को फोन कर पैसे की मांग की थी. उसने अजीत से कहा था कि उसके परिजन पैसे मांग रहे हैं. लेकिन अजीत ने उसे पैसा लौटाने में अपनी आसमर्थता जतायी थी. पुलिस का कहना है कि कर्ज का पैसा अजीत सट्टा में हार गया होगा. इसे ही लेकर वह काफी तनाव में होगा. इसी वजह से उसने आत्महत्या कर ली.

इसे भी पढ़ें-  JTDS: करोड़ों के टेंडर्स में नियमों को रखा ताक पर, शुरू हुई जांच

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: