न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चतरा में कानून का राज नहीं : भू-माफियाओं ने रेंजर व वनकर्मियों को पीटा, जब्त JCB व अभियुक्त को छुड़ाकर ले गए

1,315

Chatra : जिले में किस तरह से कानून का राज नहीं चलता है इसका उदाहरण शनिवार को देखने को मिला. यहां से गुजरने वाली राष्ट्रीय राजमार्ग 99 पर घंटों हाई वोल्टेज ड्रामा चला. सिमरिया थाना क्षेत्र के बगरा मोड़ इलाके में वन भूमि पर अवैध अतिक्रमण कार्य में लगे जेसीबी को जब्त कर लौट रही वन विभाग की टीम पर भू-माफियाओं ने हमला कर दिया. माफियाओं ने वन क्षेत्र पदाधिकारी उमेश प्रसाद व अन्य वन कर्मियों के साथ मारपीट की. साथ ही उन्होंने जब्त जेसीबी और अभियुक्त को भी छुड़ा लिया और अपने साथ ले गए.गौरतलब है कि पुलिस ने जसीबी जब्त करने के दौरान एक माफिया को गिरफ्तार किया था जिसे दबंगो ने छुड़ा लिया.

mi banner add

इसे भी पढ़ें- दिन भर गांजा पी कर जहां-तहां रात गुजारते हैं रविन्द्र पांडे- ढुल्लू महतो

वनकर्मियों को नहीं मिली सरकारी की ओर से मदद

वनकर्मियों के साथ मारपीट को लेकर करीब दो घंटे तक हाईवे पर जमकर हंगामा हुआ. हंगामे के दौरान वन कर्मियों व रेंजर ने जब्त जेसीबी मशीन व माफिया को करीब डेढ़ घंटे तक पकड़ कर अपने कब्जे में रखा. साथ ही विभागीय अधिकारियों को घटना की सूचना दी. लेकिन घंटो बीत जाने के बाद भी कोई सरकारी मदद नहीं मिलने से हताश रेंजर व अन्य कर्मियों को दबंगों के दबाव में आकर जब्त जेसीबी मशीन व अभियुक्त को छोड़ना पड़ा.

क्या है मामला

जानकारी के अनुसार रेंजर को शनिवार सुबह गुप्त सूचना मिली थी कि क्षेत्र में सक्रिय भू-माफियाओं के द्वारा जेसीबी लगाकर वन भूमि पर अवैध अतिक्रमण करने का प्रयास किया जा रहा है. सूचना पर त्वरित कार्रवाई करते हुए रेंजर अन्य वन कर्मियों के साथ वन क्षेत्र अंतर्गत जिरवा खुर्द पंचायत के सलगी जंगल पहुंचे. यहां वन विभाग की टीम को देखकर मौके पर मौजूद तस्कर गाड़ी लेकर भागने लगे. जिसके बाद टीम में शामिल वन कर्मियों ने खदेड़कर एक तस्कर को जेसीबी मशीन के साथ पकड़ लिया. वाहन व तस्कर को अपने कब्जे में लेने के बाद वन विभाग की टीम वापस सिमरिया लौट रही थी कि इसी बीच थाना क्षेत्र के बगरा इलाके में 15-20 की संख्या में मौजूद भू-माफियाओं ने टीम पर हमला कर दिया. वन कर्मियों को कुछ समझ आता इससे पूर्व वह लोग इनके साथ मारपीट करने लगे और जप्त जेसीबी व अपने साथी को छुड़ाकर मौके से चलते बने. जिसके बाद वन विभाग की टीम सिमरिया लौट गई.

थाने में मामला दर्ज

सिमरिया लौटने के बाद रेंजर के लिखित बयान पर सिमरिया थाना में घटना में संलिप्त गणेश राणा, किशोरी राणा व प्रमोद राणा समेत अन्य अज्ञात भूमाफियाओं के विरुद्ध सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने, ऑन ड्यूटी कर्मियों व पदाधिकारियों के साथ मारपीट करने व जब्त जेसीबी व अभियुक्त को छुड़ाकर ले जाने से संबंधित मामला दर्ज किया गया. सिमरिया थाना पुलिस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी को लेकर अभियान में जुट गई है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: