JharkhandLead NewsRanchi

धनबाद में छात्रों पर लाठीचार्जः गरमायी सियासत, इरफान अंसारी ने भाजपा विधायकों को ठहराया जिम्मेदार

Ranchi : धनबाद में शुक्रवार को छात्रों पर हुए लाठीचार्ज मामले को लेकर अब राजनीति शुरू हो गयी है. कांग्रेस विधायक डॉ इरफान अंसारी ने इस घटना के लिए भाजपा विधायकों पर सवाल उठाया है. कहा है कि भाजपा हेमंत सरकार को बदनाम करने में लगी है. उसकी यह साजिश विफल होगी. अभी राज्य में आम जन मानस की सरकार है.

इस घटना के लिए धनबाद क्षेत्र से विधायक राज सिन्हा, अपर्णा सेनगुप्ता और ढुल्लू महतो जिम्मेदार हैं. इधर धनबाद की घटना पर राष्ट्रीय बाल आयोग ने भी संज्ञान लिया है.

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : स्टार जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा ने दिखाया दम, भारत को दिलाया पहला GOLD

Sanjeevani

ओछी राजनीति कर रही भाजपा

इरफान अंसारी के मुताबिक भाजपा के नेता ओछी राजनीति कर रहे हैं. हेमंत सोरेन के नेतृत्व में 2021 का साल रोज़गार का साल होगा. यह युवाओं का साल होगा. धनबाद की घटना को साज़िश के तहत अंजाम दिया गया है. घटनास्थल पर जो भी लोग मौजूद थे, वह या तो भाजपा के कार्यकर्ता थे या ABVP के लोग थे. कोरोना काल में भाजपा के सभी विधायक और भाजपा नेता घर में घुसे हुए थे. उस दौरान तब किसी ने किसी की मदद नहीं की. अब बाहर निकल कर नेतागिरी कर रहे हैं. इसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा.

धरना करने की जगह सुनिश्चित होती है. कोई सीएम, विधायक या पीएम के आवास पर इसके लिए नहीं बैठ सकता. धनबाद में भाजपा से जुड़े लोगों ने ज़बरदस्ती पुलिस से उलझने की कोशिश की. नतीजतन यह घटना घटित हुई. सरकार को बदनाम करने का काम किया गया. उम्मीद है कि सीएम मामले को गंभीरता से लेते हुए इस पर उचित कार्रवाई करेंगे.

इसे भी पढ़ें :रांची में मिला ब्लैक फंगस का एक नया केस, 164 हुई संख्या

निहत्थे स्टूडेंट्स पर लाठी बरसाना घटिया हरकतः राज

राज सिन्हा के मुताबिक हेमंत है तो हिम्मत है का नारा देने वाली सरकार में अधिकारियों की बर्बरता का उदाहरण है धनबाद की घटना. एसडीएम द्वारा निहत्थे छात्रों पर लाठियां बरसाना अत्यंत निंदनीय है.

क्या है मामला

गौरतलब है कि शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता धनबाद दौरे पर थे. वे समाहरणालय में जिले के आला अधिकारियों के साथ बैठक में थे. इसी दौरान जैक इंटर में फेल छात्र छात्राएं उनसे मिलने और अपनी फरियाद लेकर पहुंच गये.

पुलिस ने उन्हें रोक लिया. इसके बाद एसडीएम और पुलिस जवानों ने उन पर लाठियां चला दीं. बन्ना ने मामले की जांच के आदेश दे दिये हैं. जिन स्टूडेंट्स को चोट लगी है, उनका मुफ्त इलाज करने की बात कही है.

इसे भी पढ़ें :पलामू: धनबाद लाठीचार्ज और नियुक्ति नियमावली पर हमलवार हुआ भाजयुमो

धनबाद घटना की जांच के लिए जायेगी भाजपा की टीम

धनबाद में छात्र छात्राओं पर बर्बर लाठीचार्ज की विस्तृत जांच के लिए प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश के निर्देशानुसार पार्टी का प्रतिनिधिमंडल रविवार को धनबाद जायेगा.

प्रतिनिधिमंडल में पूर्व मंत्री व रांची के विधायक सीपी सिंह, प्रदेश महामंत्री आदित्य साहू, डॉ प्रदीप वर्मा, विधायक अमर बाउरी शामिल होंगे.

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि झारखंड की तानाशाह सरकार को जितनी लाठियां बरसानी है बरसा ले, राज्य की जनता इनकी कायरतापूर्ण प्रत्येक लाठी का जवाब जल्द देगी. भारतीय जनता पार्टी हेमंत सरकार को माकूल जवाब देगी.

इसे भी पढ़ें :लालू परिवार में हुआ पोस्टर विवाद, तेज प्रताप ने पोस्टरवार कर ले लिया तेजस्वी से बदला

उन्होंने कहा कि नाबालिक बच्चों पर हुए लाठीचार्ज पर राष्ट्रीय बाल अधिकार संगरक्षण आयोग ने भी संज्ञान लिया है. भारतीय जनता पार्टी मांग करती है कि मासूम बच्चियों पर लाठी चलाने वाले धनबाद SDM पर सरकार अविलंब प्राथमिक दर्ज करे, अन्यथा पार्टी इस आंदोलन को और तेज करेगी. धनबाद के एसएसपी से जिला संभाल नहीं पा रहे हैं. उन्होंने कहा कि धनबाद में झारखण्ड की मासूम निहत्थी बच्चियों पर हुए लाठीचार्ज का हम कड़ा विरोध करते हैं. लाठी चलाने वाले अधिकारियों को सिर्फ बर्खास्त ही नहीं बल्कि उन्हें जेल होनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि हेमन्त सरकार का असली चेहरा सामने आ गया है. यह सरकार दमनकारी नीति अपनाकर युवाओं के आंदोलन को दबाना चाहती है. चुनाव पूर्व कांग्रेस झामुमो ने कई वादे किये थे. आज युवा वर्ग खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं. सरकार ने 2021 में नियोजन वर्ष का वादा किया था किंतु यह वर्ष नियोजन के बजाए लाठी चार्ज वर्ष का रूप ले चुका है.

युवाओं को 5 लाख नौकरी, बेरोजगारी भत्ता तो दूर, अपने हक अधिकार की मांग पर डंडे बरसा रही है. धनबाद में छात्राओं पर लाठीचार्ज कर हेमंत सरकार छात्रों के आवाज कुचलने का कार्य कर रही है. जिस प्रकार से पीटा गया है उससे स्पष्ट है कि पदाधिकारियों का मनोबल सरकार ने बढ़ा रखा है.

इसे भी पढ़ें :सीमांचल में भू-माफिया और सरकारी कर्मियों के गंठजोड़ पर बोले मंत्री, घुसपैठियों को जमीन पर कब्जा दिलाया जा रहा है

Related Articles

Back to top button