JharkhandLatehar

#Latehar : खुले में सोये सात माह के आदिम जनजाति बच्चे की मौत, ठंड से जान जाने की आशंका

Latehar : कामता पंचायत में रविवार अहले सुबह चटुआग परहैया टोला के राजू परहैया के 7 माह के पुत्र आंधी कुमार की मौत हो गयी.

राजू और उसकी पत्नी जेठनी परहिन ने बताया कि बच्चा शनिवार तक पूरी तरह से ठीक था. रात्रि में सोने के समय भी स्वस्थ था. अहले सुबह चार बजे देखा तो बच्चे की सांस नहीं चल रही थी. उसकी मौत हो गयी थी.

इसे भी पढ़ें : #Jharkhand Election : तीसरे चरण में रांची संसदीय सीट है हॉट, सीटिंग सीटों को बचाना गठबंधन के लिए बड़ी चुनौती

ठंड से मौत की आशंका

Sanjeevani

यह परिवार एस्बेस्टस की छत के नीचे रहता है. आशंका जतायी जा रही है कि चारों तरफ खुला रहने के कारण बच्चे की मौत ठंढ से ही हुई है.

दसवा परहैया, सोमा परहैया, बुधनी परहिन, जिरवा परहिन ने बताया कि रात के समय में आग का जुगाड़ कर किसी तरह जान बचा रहे हैं.  उनके पास ठंढ से बचने के लिए, ओढ़ने-बिछाने के लिए पर्याप्त कंबल नहीं हैं.

इसे भी पढ़ें : #JharkhandElection सराइकेला के कुचाई में नक्सलियों के खौफ से पांच बूथ में नहीं हुआ मतदान

40 से 50 परिवार रहते हैं

परहैया टोले में आदिम जाति के 40 से 50 परिवार निवास करते हैं. उनके सदस्यों की संख्या लगभग 250 है.

माकपा नेता अयूब खान, पूर्व पंचायत समिति सदस्य फहमीदा बीवी ने गांव जाकर परिजनों से मुलाकात कर इस संबंध में जानकारी ली.

खान ने कहा है कि जिले में एकाएक ठंड बढ़ गयी है. शाम ढलते ही ठिठुरन बढ़ जाती है. उन्होंने आदिम जनजाति परिवारों, गरीब असहायों के बीच कमल का वितरण कराने, चौक, चौराहों, बस पड़ाव व रेलवे स्टेशनों पर अलाव की व्यवस्था कराने की मांग उपायुक्त जिशान कमर, अंचलाधिकारी मुमताज अंसारी, बीडीओ अरविंद कुमार से की है.

इसे भी पढ़ें : गुमला: सिसई में वोटिंग के दौरान पुलिस की गोली से नहीं हुई मो. जिलानी की मौत, भीड़ में मारा  गया था चाकू

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button