JharkhandJHARKHAND TRIBESLateharNEWSPalamu

लातेहार: गारू के गोपखाड़ के बंदरलोट जंगल में फटा सीरीज बम, एक महिला की मौत तीन घायल

मुठभेड़ के बाद नक्सलियों ने पुलिस के लिए बिछाया था जाल

Palamu / Latehar: पलामू प्रमंडल के लातेहार जिले के गारू थाना क्षेत्र में नक्सलियों द्वारा किए गए सीरीज लैंड माइंस विस्फोट में एक महिला की मौत हो गयी, जबकि तीन गंभीर रूप से घायल हो गयी. सभी को इलाज के लिए गारू रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इनमें झांसो देवी नामक महिला की हालत चिंताजनक बतायी गयी है.जानकारी के अनुसार गारू थाना क्षेत्र के गोपखाड़ में मनीष नगेशिया की सगाई होनी थी. इसके लिए परंपरा अनुसार घर की तीन चार महिलाएं गोपखाड़ से सटे जंगल में कुछ सामान लेने गयी थी.  जंगल में कुछ दूर जाने के बाद अचानक सीरीज में लैंड माइंस विस्फोट हुआ. इससे आगे आगे चल रही नेहरू नगेशिया की मौके पर ही मौत हो गयी.

पीछे चल रही सुंदर नगेशिया की पत्नी फुलमति देवी, मनिता नगेशिया और रूपनी देवी को जख्मी हो गयी. किसी तरह तीनों को इलाज के लिए गारू रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया. सूचना मिलने पर गारू थाना प्रभारी रंजीत कुमार यादव गारू रेफरल अस्पताल पहुंचे और जख्मी महिला से घटना की जानकारी ली..

जख्मी महिला से घटना की जानकारी लेते गारू थाना प्रभारी रंजीत यादव

शादी की खुशियां मातम में बदली

गोपखाड़ में सगाई सह शादी की खुशियां मातम में बदल गयी है. घटना के बाद झांसो देवी को शव जंगल में ही पड़ा है. पुलिस महिला का शव कब्जे में करने के लिए पूरी तैयारी के साथ मौके पर गयी है. सगाई से पहले घर की महिला की मौत हो जाने से खुशियां मातम में बदल गयी है. परिजन परेशान हैं और उनका रो-रो कर बुरा हाल है.

इसे भी पढ़ें-  दिल्ली के जेवर शोरूम कर्मी की हत्या कर 86 लाख के गहने लूट कर भाग रहे दो अपराधी कालका-हावड़ा मेल में धराये

पुलिस की जगह महिलाएं बनी शिकार

गोपाखांड़ के बंदरलोटा से सटे पंडरा के जंगल में आज अहले सुबह पुलिस और प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के बीच भीषण मुठभेड़ हुई.जानकारी के अनुसार पुलिस को सूचना थी कि जंगल में नक्सलियों का जमावड़ा लगा हुआ है. इसी सूचना पर झारखंड जगुआर की टीम नक्सलियों के खिलाफ छापामारी अभियान में निकली. जंगल में पहुंचते ही पुलिस को देखकर नक्सलियों ने गोलीबारी आरंभ कर दी. जवाब में पुलिस ने भी नक्सलियों को निशाना साधकर गोलीबारी आरंभ कर दी. घटना में दोनों ओर से कई राउंड फायरिंग हुई. पुलिस को टारगेट करने के लिए पंडरा जंगल से सटे बंदरलोटा में नक्सलियों ने सीरीज में लैंड माइंस लगा रखा था. लेकिन पुलिस जवानों से पहले गोपखाड़ की महिलाएं विस्फोट में उड़ गयी. घटना के बाद पुलिस सर्तक है और समझदारी के साथ कार्रवाई में जुटी है.

 

इसे भी पढ़ें-  आकांक्षा कोचिंग : नये बैच के 92 स्टूडेंट्स को अब भी क्लास शुरू होने का इंतजार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: