NEWS

कोरोना से मुक्त हुआ लातेहार, पलामू में भी एक मरीज हुआ ठीक, कुल 53 मरीजों का हुआ इलाज

विज्ञापन
Advertisement

Palamu / Latehar: कोविड-19 के लगातार बढ़ रहे मामलों के बीच पलामू प्रमंडल से राहत भरी खबर आयी. लातेहार जिला जहां फिलहाल कोरोना मुक्त हो गया है, वहीं पलामू में एक मरीज ने कोरोना को मात देकर अपने घर चला गया.

लातेहार जिले में बुधवार को जिले के आखिरी कोरोना संक्रमित मरीज को राजहर के कोविड वार्ड से छुट्टी दे दी गयी. इस तरह जिले में अबतक कोरोना संक्रमित पाए गए सभी 53 लोग ठीक हो गए हैं. अंतिम इलाजरत मरीज महुआडांड़ का निवासी था और एक सप्ताह पूर्व महाराष्ट्र से लातेहार आया था.

इसे भी पढ़ेंः सरकार कर रही है मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट पर विचार, रिम्स में व्यक्तिवादी नहीं टीम भावना से कार्य होगा: बन्ना गुप्ता

advt

अधिकतर मरीज प्रवासी

बता दें कि लातेहार जिले में 8 मई को कोरोना से संक्रमित पहला मरीज मिलने की पुष्टि की गई थी. जिले में संक्रमित पाए गए ज्यादातर लोग प्रवासी थे और अन्य राज्यों से लातेहार जिले में स्थित अपने घरों को लौटे थे.

सिविल सर्जन डॉ संतोष श्रीवास्तव ने ठीक हुए मरीज को मास्क, सेनेटाइजर, गिफ्ट एवं राशन उपलब्ध करा कर विदाई दी. डॉ श्रीवास्तव ने घर जा रहे मरीज को 14 दिनों तक होम क्वारेंटाइन में रहने का निर्देश भी दिया.

इस अवसर पर सिविल सर्जन ने कहा कि आज लातेहार जिला को कोरोना से जंग में बड़ी सफलता मिली है, जो काफी हर्ष का विषय है. जिले में मिले सभी 53 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक होकर घर चले गए हैं. उन्होंने इस सफलता के लिए प्रशासनिक एवं स्वास्थ्य विभाग की पूरी टीम को बधाई दी.

उन्होंने जिलेवासियों से कोरोना संक्रमण को लेकर बनाए गए नियम का पूरी तरह से पालन करने की अपील की है. मौके पर डॉक्टर अंजली प्रिया, स्वास्थ्य विभाग के वेद प्रकाश समेत अन्य चिकित्सक एवं कर्मी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ेंः आज से बदल गए हैं ये नियम, जानना जरूरी है नहीं तो होगा बड़ा नुकसान

लेस्लीगंज का मरीज हुआ ठीक

पलामू जिले में लेस्लीगंज के गुरियादामर का मरीज स्वस्थ्य हुआ. वह गत 23 जून को दिल्ली से आया था. इसके बाद उसके सैंपल लेकर जांच की गयी तो वह पाॅजिटिव पाया गया. पीएमसीएच के डेडिकेटेड कोविड अस्पताल में सात दिनों तक इलाज चलने के बाद वह स्वस्थ्य हो गया.

जिले के सिविल सर्जन डा. जॉन एफ कनेडी ने बताया कि जिले में अब मात्रा दो संक्रमित बच गए हैं। दो दिनों के भीतर उन दोनों के स्वस्थ हो जाने की पूरी संभावना है. आयुष मंत्रालय के गाइड लाइन के अनुसार इलाज के बाद उनके स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है. जिले में अबतक 53 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, जिनमें से 51 स्वस्थ्य हो गए हैं.

इसे भी पढ़ेंः पतंजलि को कोरोनिल बेचने की इजाजत मिली, पर इलाज की दवा कह कर नहीं

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: