JharkhandLatehar

#Latehar : TPC के सब-जोनल कमांडर समेत 5 उग्रवादी गिरफ्तार, भारी मात्रा में पुलिस से लूटे हथियार बरामद

Latehar: लातेहार पुलिस ने टीपीसी उग्रवादी संगठन के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए बालूमाथ थाना क्षेत्र के तितिर महुआ जंगल से संगठन के सब जोनल एरिया कमांडर कार्तिक सहित पांच नक्सलियों को गिरफ्तार किया.

गिरफ्तार हुए उग्रवादियों में सब जोनल कमांडर कार्तिक गंझू, जगेश्वर गंझू, रंजीत गंझू ,पप्पू गंझू और रूपलाल गंझू शामिल हैं.

गिरफ्तार हुए उग्रवादियों के पास से पुलिस कार्बाइन, तीन राइफल, 423 गोलियां और नक्सली पर्चे बरामद किये.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें: #Palamu: जेजेएमपी के चार उग्रवादी गिरफ्तार, कई हिंसक घटनाओं में थे शामिल

गुप्त सूचना के आधार पर हुई गिरफ्तारी

लातेहार एसपी प्रशांत आनंद को गुप्त सूचना मिली थी कि प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन टीपीसी का दस्ता बालूमाथ एवं लावालौंग थाना क्षेत्र के सीमावर्ती इलाके में भ्रमणशील है. एनटीपीसी उग्रवादी लोगों को धमकाने और लेवी वसूलने के लिए बड़ी घटना का अंजाम देने की फिराक में हैं.

मिली गुप्त सूचना के आधार पर लातेहार एसपी प्रशांत आनंद के द्वारा एक छापेमारी दल का गठन किया गया. छापेमारी टीम जब बालूमाथ थाना क्षेत्र के तितिर महुआ जंगल पहुंची तो देखा कि कुछ हथियारबंद दस्ते पुलिस को देख कर भाग रहे हैं.

इसके बाद छापेमारी दल के द्वारा सभी को घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तार हुए उग्रवादियों की निशानदेही पर पुलिस ने जंगल में छिपा कर रखे भारी मात्रा में पुलिस का लूटा हुआ हथियार और गोली बरामद किया.

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस में अंतर्कलह: चुनाव में कई लोगों ने की पार्टी विरोधी गतिविधि, कार्रवाई सिर्फ लोहरदगा में!

लातेहार के चंदवा में टीपीसी नक्सलियों ने दिया था बड़ी घटना का अंजाम

लातेहार के चंदवा थाना क्षेत्र स्थित महुआ मिलान रेलवे स्टेशन पर थर्ड लाइन रेलवे ट्रैक बिछाने का काम चल रहा है. कंट्रक्शन कंपनी की हाइवा, पोकलेन व कुछ मशीनों से काम किया जा रहा है.

30 दिसंबर की देर रात टीपीसी उग्रवादी दर्जनों की संख्या में मौके पर पहुंचे और हाइवा व मशीनों को आग के हवाले कर दिया था. उग्रवादियों ने दर्जनों राउंड फायरिंग भी की थी.

वहीं, मौके पर हस्त लिखित पर्चा भी छोड़ गये थे. पर्चा में लिखा हुआ है कि ‘संगठन से आदेश लिए बिना कार्य कर रहे हैं. इसलिए यह कार्रवाई की गयी है.

आगे संगठन से बात नहीं करेंगे तो इससे बड़ी घटना को अंजाम दिया जायेगा. घटना के बाद लातेहार पुलिस लगातार उग्रवादियों के खिलाफ सर्च अभियान चला रही है.

इसे भी पढ़ें: झारखंड बाल अधिकार संरक्षण आयोग में 9 महीने से लटका है ताला, सभी पद भी खाली

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button