Palamu

पलामू सेंट्रल जेल में देर रात छापेमारी, 10 टीमों में 154 प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस ने मारा छापा

Palamu: पलामू सेंट्रल जेल में देर रात आईपीएस अधिकारी ताराचंड के नेतृत्व में छापेमारी की गयी. सेंट्रल जेल में छापेमारी के क्रम जेल के अंदर सभी सेल की गहन जांच की गई. इस दौरान पुलिस को गुटखा और खैनी बरामद हुआ. इधर अचानक देर रात जेल में छापेमारी होने से कैदियों के बीच हड़कंप मच गया था. प्रशासन और पुलिस को सूचना मिली थी कि जेल के अंदर कुछ कैदियों की गतिविधि संदिग्ध, और आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए आपराधिक गतिविधि पर लगाम लगाने के लिए छापेमारी की गई है. साथ ही छापेमारी से जेल की सुरक्षा भी सुनिश्चित की गई.

Jharkhand Rai

बनाई गई थी 10 अलग-अलग टीम

पलामू सेंट्रल जेल में छापेमारी के लिए 154 प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को मिला कर 10 अलग-अलग टीम बनाई गई थी. हर एक टीम में एक सीनियर पुलिस अधिकारी और दंडाधिकारी मौजूद थे. जिसके बाद सभी टीमों के द्वारा सभी सेल में छापेमारी की गई. छापेमारी में आईपीएस अधिकारी विनीत कुमार, एसडीएम नंद किशोर गुप्ता, डीएसपी प्रेमनाथ, सीओ शिवशंकर पांडेय समेत आधा दर्जन से अधिक इलाके के थाना प्रभारी मौजूद थे.

कई बड़े नक्सली वअपराधी हैं जेल में बंद

पलामू सेंट्रल जेल में करीब 1100 से अधिक कैदी बंद है. इनमें झारखंड के कई के बड़े आपराधिक संगठन से तालुक रखनेवाले अपराधी और कई कुख्यात नक्सली भी हैं. इससे पहले अक्टूबर 2018 में भी सेंट्रल में छापेमारी की गई थी. पलामू जेल से कई आपराधिक घटनाओं के तार पहले से जुड़े हैं. जेल के अंदर से पहले कई बार रंगदारी मांगी जा चुकी है.

Samford

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: