न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रिम्स में पड़े 35 लावारिस शवों का किया गया अंतिम संस्कार

12

Ranchi: एक बार फिर राज्य के सबसे बड़े अस्पताल में करीब दो महीने से पड़े लावारिस शवों का अंतिम संस्कार किया गया. इन 35 शवों का परिजनों का कोई अता-पता नहीं था, उन्हें सामाजिक संगठन मुक्ति संस्था द्वारा विधि-विधान से जुमार नदी के तट पर स्थित मुक्तिधाम में मुखाग्नि‍ दी गयी. रिम्स में पड़े रहने वाले ऐसे लावारिस शवों को समय-समय पर मुक्ति संस्थान द्वारा अंतिम संस्कार किया जाता है. वैसे शव जिनका कोई परिचीत नहीं रहता या जिन्हें कोई लेने नहीं आता, वो सभी रिम्स के पोस्टमार्टम हाउस के मर्चरी में पड़े रहते हैं. कई बार तो मर्चरी में पड़े-पड़े इन शवों की हालत और ज्यादा बिगड़ जाती है.

2014 से अबतक 645 शवों का कर चुके है अंतिम संस्कार

मुक्ति संस्था के प्रतिनिधियों ने बताया कि हजारीबाग जिले की एक संस्‍था इस तरह मानवीय सामाजिक कार्य किया करती थी. उन्हीं से प्रेरणा लेकर हमलोगों ने भी ऐसे शवों का अंतिम संस्कार करने का निर्णय लिया था. 2014 से रिम्स में पड़े लावारिस शवों का अंतिम संस्कार करते आ रहे हैं. अबतक लगभग 645 शवों का अतिंम संस्कार किया जा चुका है. यह सिलसिला आगे भी जारी रहेगा. प्रतिनिधियों ने बताया वैसे लावारिस शव जिनकी सुध लेने वाला कोई नहीं होता, उनका विधि-विधान से अंतिम संस्कार कर मन को संतुष्टी मिलती है. जिसका कोई नहीं होता उसका भगवान है. इसी उद्देश्य के साथ मुक्ति संस्था पिछले 4 सालों से बेनाम शवों का अंतिम संस्कार करते आ रहा है.

silk_park

इसे भी पढ़ें- स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 का सच : झिरी में नहीं लगा प्लांट, अब कबाड़ी वालों से सहयोग लेगा निगम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: