NEWS

झरिया में भू-धंसान, जमींदोज महिला को कड़ी मशक्कत से निकाला बाहर, घंटों सड़क जाम

लोगों में रोष, अधिकारी नहीं दे रहे हैं दूसरी जगह बसाने पर ध्यान

Dhanbad: झरिया के घनुडीह मल्लाह बस्ती शनिवार की देर रात्रि सूरज निषाद की पत्नी मालती देवी  शौच के लिये बाथरूम गयी थी. जमीन के अंदर लगी आग  और गैस के कारण जमीन धंस गयी और महिला जमीदोंज हो गयी. बाथरूम का दिवार भरभरा कर महिला के ऊपर गिर गया. कड़ी मशक्कत के बाद महिला को बाहर निकाला जा सका. उसे अस्पताल पहुंचाया गया. महिला की स्थिति गंभीर बताई जा रही है. पैर भी टूट गया है.

 

 

घायल मालती देवी के पुत्र नमन कुमार ने बताया कि मेरी मां शौच के लिए गयी, तभी जमीन धंस गई, वह चिल्लाई. चिल्लाने की आवाज सुनकर पड़ोसी रेशमी देवी मौके पहुंची. मालती देवी जमींदोज होते देख रेशमी देवी जोर-जोर से चिल्लने लगी. शोर सुनकर बड़ी संख्या में मौके पर लोग जुट गये. फिर मालती देवी को निकाला गया.

 

मौके पर अधिकारी  के  नहीं पहुंचने से आक्रोशित ग्रामीणों ने झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग घंटो  जाम कर दिया. सूचना पाकर झरिया सीओ राजेश कुमार सिंह, घनुडीह ओपी प्रभारी पहुंचे. सीओ राजेश सिंह ने लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया. सीओ ने ग्रामीणों से कहा कि  बीसीसीएल की ओर से मुआवजा दिया जायेगा. जिसके बाद जाम हटाया गया.

 

ram janam hospital
Catalyst IAS

स्थानीय लोगों का कहना है कि घनुडीह मल्लाह पट्टी  के लोगों पर हर वक्त मौत मंडरा है. बीसीसीएल प्रबंधन और जिला प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है. बीसीसीएल की ओर से सिर्फ नोटिस चिपकाया जा रहा है. लोगों को सुरक्षित स्थानों पर बसाने का काम नहीं हो रहा है. इससे लोग डरे सहमे हैं. लोग सुरक्षित आशियाना चाहते हैं.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

Related Articles

Back to top button