न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रातू में जमीन कारोबारी की अपराधियों ने गोली मार कर की हत्या

443

Ranchi: रातू थाना क्षेत्र के पिर्रा गांव के रहनेवाले जमीन कारोबारी कमलेश दुबे को बाइक पर सवार होकर आये अपराधियों ने गोली मार दी.

गोली मारने के बाद अपराधी मौके से फरार हो गये. आनन-फानन में कमलेश दुबे को बजरा स्थित देवकमल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी मौत हो गयी है. घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस पहुंच कर मामले की छानबीन में जुटी हुई है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें – हेमंत ने पहली ही कैबिनेट बैठक में रिक्त पदों को भरने का दिया निर्देश, 40,000 नौकरियों की जगी उम्मीद

जमीन के कारोबार से जुड़े हैं कमलेश दुबे

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रातू थाना क्षेत्र के पिर्रा गांव के रहनेवाले कमलेश दुबे जमीन के कारोबार से जुड़े हुए हैं. कमलेश दुबे को गोली मारने के पीछे जमीन विवाद का मामला सामने आ रहा है हालांकि अभी तक इसकी कोई पुष्टि नहीं हो पायी है.

बाइक पर सवार होकर आये अपराधियों ने कमलेश दुबे को उनके घर के बाहर ही तीन गोलियां मारीं. इसके बाद आनन-फानन में कमलेश दुबे को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी मौत हो गयी.

मामले की छानबीन कर रही है पुलिस

इस मामले में रातू थाना प्रभारी का कहना है कि कमलेश दुबे को अज्ञात अपराधियों के द्वारा गोली मारी गयी है पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है.

राजधानी कारोबार में जा रही है लोगों की जान

राजधानी रांची में जमीन विवाद को लेकर हत्याओं का सिलसिला कुछ महीनों तक बंद रहने के बाद अब फिर शुरू हो गया है. अपराधी एक के बाद एक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं.

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

पुलिस कांके में जमीन विवाद को लेकर अधिवक्ता की हत्या की गुत्थी सुलझा पायी थी, तब तक अपराधियों ने मांडर में जेएमएम नेता सुबोध नंद तिवारी की गोली मार कर हत्या कर दी थी. हत्या के पीछे जमीन विवाद का मामला सामने आ रहा था.

इस मामले में नामजद आरोपी ने सरेंडर किया फिर उसके बाद सोमवार की रात कमलेश दुबे को गोली मार दी गई. जमीन विवाद को लेकर लगातार हो रही हत्याओं से ये बात तो जाहिर हो गया है कि राजधानी रांची में जमीन का धंधा जानलेवा बनता जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – नेता प्रतिपक्ष का आवास हुआ सीएम आवास,  हेमंत ने कहा- सर्वांगीण विकास के लिए काम करेगी सरकार

ताजा आंकड़ों के मुताबिक झारखंड बनने के बाद सिर्फ रांची में जमीन विवाद के चलते 350 से ज्यादा लोगों की हत्या हो चुकी है. पिछले दो साल के आंकड़ों पर गौर करें, तो इस दौरान रांची में जमीन विवाद को लेकर हत्याओं की घटना में बढ़ोतरी हुई है.

हाल के महीने में जमीन विवाद को लेकर हुई गोलीबारी और हत्या की घटनाएं

21 दिसंबर 2019: मांडर थाना क्षेत्र के मुड़मा में अज्ञात अपराधियों ने जेएमएम नेता सुबोध नंद तिवारी की गोली मार कर हत्या कर दी. हत्या के पीछे जमीन विवाद का ही मामला सामने आ रहा है.

9 दिसंबर 2019: कांके थाना क्षेत्र के सर्वोदय नगर में अधिवक्ता राम प्रवेश सिंह की जमीन विवाद में गोली मार कर हत्या कर दी गयी.

3 अक्टूबर 2019: नगड़ी थानाक्षेत्र में बाइक सवार अपराधियों ने जमीन कारोबारी पर गोलियां चलायी. मनोज मिंज को तीन गोली लगी जिसके बाद उसे रिम्स में भर्ती कराया गया. घटना से गुस्साये लोगों ने रिंग रोड जाम कर देर तक प्रदर्शन किया था.

इसे भी पढ़ें – जिन्हें नागरिकता मिलेगी वे कहां जायेंगे और क्या खायेंगे, केला या लॉलीपॉप : ममता 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like