न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नव निर्मित विधानसभा के आसपास 75 करोड़ की लागत से लैंड स्केपिंग और वाटर फाउंटेन लगेगा

कोर कैपिटल एरिया में बन रहे विधानसभा भवन का इस्टीमेट बढ़ने से उठने लगे हैं कई सवाल

1,305

Ranchi: झारखंड में बन रहे नये विधानसभा भवन के आसपास अब लैंड स्केपिंग, वाटर फाउंटेन, बागवानी के लिए 75 करोड़ रुपये और खर्च किये जायेंगे. 430 करोड़ से अधिक की लागत से बनाये जा रहे विधानसभा भवन के इस्टीमेट को लेकर हाईकोर्ट तक मामला पहुंच चुका है. सत्ता पक्ष से लेकर विपक्ष के कई नेता बढ़ी लागत पर सवाल भी उठा चुके हैं. सरकार के भवन निर्माण विभाग की तरफ से अब 75 करोड़ खर्च कर नयी सुविधाएं विकसित करने की घोषणा की गयी है. यह काम तीन महीने में पूरा किया जायेगा. वैसे भी विधानसभा तक की पेरीफेरल रोड के लिए पहले ही 80 करोड़ रुपये की निविदा सरकार की तरफ से निकाली जा चुकी है. भवन निर्माण विभाग के कार्यप्रमंडल-1 के कार्यपालक अभियंता श्री मोदी ने बताया कि लैंड स्केपिंग के कार्य में पथों के सुंदरीकरण का काम भी शामिल है. सड़क के किनारे मिट्टी भर कर उसकी बेहतर लैंड स्कैपिंग कराने के अलावा मौसमी फूलों को भी लगाया जायेगा. इसके अलावा बागवानी, रंगीन और आकर्षक फव्वारे के लिए पूरा इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने, इलेक्ट्रिसिटी वर्कस, प्लंबिंग, जीआरसी का काम भी शमिल किया गया है.

विद्युत सज्जा का काम भी चयनित एजेंसी से कराया जायेगा

दिन और रात के समय में फव्वारे के लिए आकर्षक विद्युत सज्जा का काम भी चयनित एजेंसी से कराया जायेगा. उन्होंने कहा कि सरकार जल्द ही किसी योग्य एजेंसी का चयन कर, इस काम को पूरा करने का कार्यादेश देगी. उन्होंने कहा कि नये विधानसभा भवन के निर्माण का काम अब अंतिम चरण में है. यहां तक पाइपलाइन जलापूर्ति की व्यवस्था, सिक्स लेन सड़क और अन्य कार्यों के लिए निविदा निकाली जा चुकी है. उन्होंने कहा कि मानसून सत्र के पहले नयी विधानसभा पूरी तरह बन कर तैयार हो जायेगी.

इसे भी पढ़ेंः 20 महीने बाद फिर से गुलजार हुआ डीसी लाइन, लोगों में ट्रेन पर चढ़ने की लगी होड़

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: