NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची में अपराधी दिला रहे हैं जमीन पर कब्जा, हो चुकी हैं कई हत्याएं

331

Ranchi: राजधानी रांची के कुख्यात अपराधी जेल में रहते हुए जमीन पर कब्जा दिलाने का काम कर रहे हैं. इसके लिए वे अपने गुर्गे का इस्तेमाल करते हैं. इसके एवज में उन्हें मोटी रकम मिलती है. राजधानी के कुख्यात संदीप थापा, बिट्टू मिश्रा, सोनू इमरोज, सुरेंद्र कच्छप, कुदरत अंसारी, सागर पाठक सहित कई अपराधी जेल में रहकर राजधानी के अलग-अलग हिस्सों में जमीन कब्जा दिलाने का काम कर रहे हैं. इस धंधे में अपराधी खौफ बनाकर जमीन पर कब्जा दिलाते है और इसके बदले जमीन कारोबारियों से मोटी रकम वसूलते हैं.

इस धंधे में अपराधियों की तनातनी से सरगर्मी बढ़ी है. वहीं, कई जगहों पर गैंगवार जैसी स्थिति बनी हुई है. जमीन पर कब्जा को लेकर में कई हत्याएं भी हो चुकी हैं.

इसे भी पढ़ें: JSIA के सर्वे में 91 फीसदी लोगों ने कहा, बिजली की स्थिति बदतर, अधिकारी हैं कि मिलते तक नहीं

हाल में पकड़ाये अपराधियों ने कबूली थी जमीन पर कब्जा दिलाने की बात

हाल में पकड़ाये अपराधियों ने पुलिस के सामने जमीन पर कब्जा दिलाने की बात को भी स्वीकार की है. पिछले सप्ताह नगड़ी थाना क्षेत्र के दलादली चौक से पकड़ाए अपराधियों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि ‘हमलोग जमीन पर कब्जा दिलाने का भी काम करते हैं.’ जमीन पर कब्जा दिलाने को लेकर किसी की हत्या करने के फिराक में थे. लेकिन, पुलिस ने उससे पहले ही सभी को गिरफ्तार कर लिया.

जमीन कारोबार में उतर रहे हैं अपराधी

अपराधी अब जमीन कारोबार में उतर रहे हैं. अपराधियों के जमीन के धंधे में उतरने के बाद से जमीन विवाद के मामले बढ़ रहे हैं. इसके कारण राजधानी में हाल के दिनों में जमीन विवाद में जमीन कारोबारी की हत्या, फायरिंग सहित अन्य घटनाएं बढ़ी हैं. ज्यादातर हत्याएं जमीन विवाद के कारण ही हो रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: पोषाहार नहीं दे रही झारखंड सरकार और जोर-शोर से मनाया जा रहा है पोषण माह

कई अपराधियों के जमीन कारोबार में उतरने की हो चुकी है पुष्टि

  1. जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के लटमा का सुरेंद्र कच्छप आर्म्स एक्ट के केस में जेल जा चुका है. उसके खिलाफ पुलिस पूर्व में न्यायालय में चार्जशीट दाखिल कर चुकी है. सिटी एसपी अमन कुमार ने जब पांच और छह फरवरी 2018 को उसकी गतिविधियों का सत्यापन कराया, तब उसके जमीन के कारोबार से जुड़ने की जानकारी मिली.
  1. टुपुदाना ओपी क्षेत्र के सिलादोन का कुदरत अंसारी पूर्व में कोतवाली थाना से जेल जा चुका है. सिटी एसपी ने उसकी गतिविधियों का सत्यापन 14 जनवरी को कराया था. सत्यापन के दौरान उसके जमीन के कारोबार से जुड़ने की जानकारी मिली.
  2. पंडरा ओपी क्षेत्र के फ्रेंडस कॉलोनी निवासी सागर पाठक पंडरा ओपी से आर्म्स एक्ट के केस में जेल जा चुका है. सिटी एसपी ने उसकी गतिविधि का सत्यापन 13 जनवरी को कराया था. सत्यापन के क्रम में उसके भी जमीन कारोबार से जुड़े होने का पता चला.
madhuranjan_add

इसे भी पढ़ें: राजधानी समेत पूरे प्रदेश में बंद का मिलाजुला असर, 8234 समर्थक हुए गिरफ्तार, रिहा

जमीन विवाद में हत्या और फायरिंग की घटनाएं

01 मार्च 2018: नामकुम थाना क्षेत्र के लोवाडीह निवासी जमीन कारोबारी अंकुश कुमार उर्फ आशीष बड़ाइक पर दुर्गा सोरेन चौक के पास फायरिंग.

15 मार्च 2018: चुटिया थाना क्षेत्र के पावर हाउस चौक निवासी अरुण नाग की जमीन विवाद में गोली मारकर हत्या.

06 मार्च 2018: लोअर बाजार थाना क्षेत्र के कुरैशी मुहल्ला में गढ़ा टोली की जमीन विवाद में कुरैशी मोहल्ला निवासी सलाम खान की गोली मार कर हत्या.

03 अप्रैल 2018: कांके थाना के बुकरू में जमीन पर बाउंड्री कराने के एवज में रंगदारी नहीं देने पर व्यवसायी मनोज कुमार की पत्थर से कूच कर हत्या.

01 फरवरी 2018: पुंदाग ओपी क्षेत्र के साहू चौक निवासी जमीन कारोबारी काशीनाथ महतो पर जमीन कारोबार के रुपये के विवाद में अशोक नगर गेट नंबर चार के पास फायरिंग.

21 जनवरी 2018: नगड़ी थाना क्षेत्र के गुटुवा बस्ती में जमीन कारोबारी उमेश गंझू और शमशाद की गोली मार कर हत्या.

22 जनवरी 2018: रातू थाना क्षेत्र के जमीन कारोबारी सुंडील निवासी शंकर काशी की अपराधियों ने चटकपुर में गोली मार कर हत्या कर दी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: