न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक रैयतों, आदिवासियों पर बड़ा हमला :  अयूब

16 जुलाई को माकपा का राजभवन के समक्ष महाधरना

393

Latehar : भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक के खिलाफ आगामी 16 जुलाई को वामदलों और विपक्षी दलों का राजभवन के समक्ष महाधरना में लातेहार जिले से माकपा के सैंकड़ों कार्यकर्ता शामिल होंगे. इस आशय की जानकारी पार्टी के लातेहार पूर्व जिला सचिव अयूब खान ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी, उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में पोलिट ब्यूरो सदस्य वृंदा करात भी शामिल होंगी. आगे कहा कि राज्य की भाजपा नेतृत्व वाली रघुवर दास सरकार ने भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक लाकर पांचवीं अनुसूची व सीएनटी एक्ट के साथ साथ रैयतों पर हमला बोला है. बिल के पास होने से रैयत, गरीब और आदिवासी खत्म होने के कगार पर पहुंच जाएंगे. लातेहार के चंदवा में अभिजित ग्रुप व एस्सार पावर प्लांंट, बालूमाथ पिंडारकोम और गणेशपुर कोल ब्लॉक के विस्थापितों की स्थिति आज सबके सामने है. उस क्षेत्र के विस्थापित गरीब रैयत उजड़ गए हैं, उनकी हालत बद से बदतर हो गई है. इन्हें भी अच्छे दिन आने का सपना दिखाकर उनसे कॉरपोरेट कंपनियों ने जमीन ली थी, आज वहां के विस्थापित अपने आपको बचाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. भूमि अधिग्रहण बिल सख्त होने के ही कारण जमीन बची थी, कॉरपोरेट घरानों को जमीन असानी से उपलब्ध कराने और उनका विकास करने के लिए सरकार बिल में संशोधन कर एक्ट को कमजोर करना चाह रही है. संशोधन में ग्राम सभा और न्यायालय की भूमिका को समाप्त करने का प्रयास किया गया है.

इसे भी पढ़ें घोषणा कर भूल गयी सरकार – 14 जुलाई : साहब, दो साल बीत गये रांची कब बनेगी वाई-फाई सिटी 

टोरी में फ्लाई ओवर के लिए राज्यपाल को सौंपा जायेगा ज्ञापन

hosp1

टोरी में फ्लाई ओवर को लेकर माकपा के पोलिट ब्यूरो सदस्य वृंदा करात, राज्य सचिव गोपीकांत बख्शी के नेतृत्व में 16 जुलाई को महाधरना के माध्यम से राज्यपाल को ग्रामीणों का ज्ञापन सौंपा जायेगा, इसके लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया जा रहा है. उन्होंने आगे बताया कि इस संबंध में पार्टी के राज्य सचिव ने रांची में राज्यस्तरिय निगरानी समिति की बैठक में ज्ञापन सौंप चुकी है. ऑदोलनों के माघ्यम से प्रधानमंत्री, रेलमंत्री, रेल मंत्रालय, जीएम हाजीपुर, डीआरएम धनबाद, चेयरमैन रेलमंत्रालय को भी पत्र प्रेषित किया जा चुका है. इसके बावजूद भी इस ओर किसी का ध्यान नहीं है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: