न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लोकसभा चुनाव में कार्यकर्ताओं में जोश भरने का काम करेगी लालू की चिट्ठी

चिट्ठी के माध्यम से अपने समर्थकों तक पहुंचेंगे लालू

32

Ranchi: लालू प्रसाद यादव इस बार लोकसभा चुनाव में जेल से ही बिहार के सभी वोटरों से मुखाति‍ब होंगे. अंतर इतना होगा कि वे आमने-सामने मिलकर नहीं, बल्कि चिट्ठी के माध्यम से वोटरों तक पहुंचेंगे. लोकसभा चुनाव होने में अब चंद महीने ही बचे हैं. सभी राजनीतिक पार्टियां अभी से चुनाव की तैयारी में लग गये हैं. बिहार से राजद के सुप्रीमो भला इस लड़ाई में कैसे पीछे रहेंगे. हालांकि वर्तमान समय में वे चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता हैं और खराब सेहत की वजह से रिम्स के पेईंग वार्ड में इलाजरत हैं.

कार्यकर्ताओं में जोश भरने का काम करेगी लालू की चिट्ठी

लोकसभा चुनाव का बिगुल बजते ही सभी राजनीतिक पार्टियां सक्रिय हो जायेंगे. ऐसे में आरजेडी को उनके मुखिया लालू प्रसाद यादव की कमी खलेगी. लेकिन, राजद सुप्रीमो ने हल निकाल लिया है. सूत्रों की माने तो लालू प्रसाद ने चिट्ठी के सहारे अपने समर्थकों में जोश भरने का काम करेंगे. आरजेडी बिहार में लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुट गयी है और बैठकों का दौर जारी है.

लालू अपने वोटरों को चिट्ठी के जरिये यह बताना चाहते हैं कि कैसे विरोधियों ने उन्हें चारा घोटाले के मामले में साजिश के तहत फंसाया. इन चिट्ठियों में लालू ने अपने वोटरों को संदेश देना चाहा है कि आगामी लोकसभा चुनाव में देश में बीजेपी गठबंधन को किस तरह से पराजित करना है.

लालू संदेश का लगेगा चौपाल

राजद के पदाधिकारियों के अनुसार बीते दिनों पार्टी की एक बैठक आयोजित की गयी थी. जिसमें यह निर्णय लिया गया कि प्रदेश की सभी पंचायतों में जल्द लालू संदेश चौपाल लगाया जाएगा. जहां पर लालू की चिट्ठियों को जनता के लिए पढ़ा जाएगा. लालू प्रसाद ने अपने वोटरों के लिए चार चिट्ठी लिखी हैं. इन चिट्ठियों में लालू ने विपक्षी पार्टियों की साजिश का जिक्र किया है. साथ ही बीजेपी को कैसे शिकस्त देना है. इसका मंत्र भी अपने कार्यकर्ताओं को लालू ने चिट्ठी के माध्यम से दिया है.

इसे भी पढ़ें: रांची: पांच सालों की तुलना में हत्या, लूट, डकैती, अपहरण और दुष्कर्म की घटनाओं में कमी

इसे भी पढ़ें: सरकार जनता से डरे, यह स्वतंत्रता है, जनता सरकार से डरे, यह निरंकुशता है : दीपक मिश्रा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: