BiharBihar UpdatesCourt NewsDumkaJharkhandLead NewsNEWSRanchi

लालू की जमानत पर सुनवाई आज, निकल सकते हैं जेल से बाहर

चारा घोटाले से जुड़ा दुमका कोषागार का मामला

Ranchi : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के लिए आज का दिन अहम है. चारा घोटाला मामले में उनकी जमानत पर झारखंड हाई कोर्ट में आज (10 दिसंबर) सुनवाई होगी. दुमका कोषागार मामले में सजा की अवधि पूरी होने का हवाला देते हुए जमानत की मांग की गई है. यदि जमानत मिलती है तो वह जेल से बाहर आ सकते हैं. इस मामला की सुनवाई जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की अदालत में होनी है. मालूम हो कि इससे पूर्व तीन मामलों में उन्हें जमानत मिल चुकी है.

सात साल की सुनाई गई है सजा

लालू यादव को दुमका कोषागार मामले में सीबीआई कोर्ट ने 7 साल की सजा सुनाई है. लालू के वकील का कहना है कि वह 42 माह से ज्यादा समय जेल में बिता चके हैं. इधर, सीबीआई का कहना है कि लालू इस मामले में 34 माह ही जेल में रहे हैं.

advt

इसे भी पढ़ें :  स्वच्छ भारत अभियान के तहत बना शौचालय धंसा, तीन बच्चे घायल, एक की हालत गंभीर

लालू की तबीयत ठीक, जेल भेजा जाएः सीबीआई

इस बीच सीबीआई की ओर से हाई कोर्ट में गुरुवार को एक पूरक शपथपत्र दाखिल किया गया है, जिसमें कहा गया है कि लालू प्रसाद की तबीयत स्थिर है और फोन प्रकरण में उनके खिलाफ पटना में प्राथमिकी भी दर्ज हो गई है. उन्होंने जेल मैन्युअल का उल्लंघन किया है. ऐसे में उन्हें रिम्स से बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा भेज देना चाहिए. पिछली सुनवाई के दौरान सीबीआई लालू के फोन प्रकरण का मुद्दा अदालत में उठा चुकी है.

चाईबासा के दो व देवघर के एक मामले में मिल चुकी है जमानत

बता दें कि लालू प्रसाद ने दुमका कोषागार मामले में सजा की आधी अवधि जेल में काटने, बढ़ती उम्र व बीमारियों का हवाला देते हुए जमानत की गुहार लगाई है. लालू के अधिवक्ता देवर्षि मंडल ने बताया कि दुमका कोषागार मामले में उन्होंने 42 माह 19 दिन जेल में बिताए हैं, जबकि सीबीआइ का दावा है कि दुमका वाले मामले में लालू प्रसाद सिर्फ 34 माह ही जेल में रहे हैं. मालूम हो कि लालू प्रसाद को कुल चार मामलों में सजा मिली है. इसमें से चाईबासा के दो और देवघर से जुड़े  मामले में जमानत मिल चुकी है. अगर दुमका कोषागार वाले मामले में लालू प्रसाद को जमानत मिलती है तो वे जेल से बाहर निकल जाएंगे.

इसे भी पढ़ें : लातेहार में मनरेगा योजनाओं की जांच करने पहुंची केंद्रीय टीम, ग्रामीण बोले- मजदूरी बढ़ाइये

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: