न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लालू यादव को मिलेगी बेल या जेल, फैसला आज

91

Ranchi : चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने अपने स्वास्थ्य के आधार पर बेल की मांग की है. इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट आज 10 अप्रैल को फैसला सुनाएगा.

इस फैसले में यह साफ हो जाएगा कि लालू को बेल दी जाएगी या फिर वो जेल में ही रहेंगे. गौरतलब है कि लालू रांची के रिम्स में फिलहाल इलाज करा रहे हैं. और इसी आधार पर उन्होंने बेल की अर्जी डाली है.

देश में लोकसभा चुनाव की तैयारी जोरों पर है. राजनीतिक दलों ने कमर कस ली है. टिकट बंटवारे से लेकर रैलियों का दौर है. इन सबके बीच आरजेडी के नेताओं को लालू यादव के जेल से बाहर आने का इंतजार है.

इसे भी पढ़ेंः आयकर विभाग की कार्रवाई पर चुनाव आयोग सख्तः कहा- आगे से कार्रवाई से पहले सूचित करें

पार्टी नेताओं की उम्मीद कोर्ट के फैसले पर अटकी

पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं की उम्मीद सुप्रीम कोर्ट में उनकी जमानत अर्जी से बंधी है. उल्लेखनीय है कि 1980 के बाद यह पहला मौका है जब चुनाव के दौरान लालू यादव नहीं है. यह चुनाव उनकी मौजूदगी के बिना ही लड़ा जा रहा है.

हालांकि राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की कमान अभी भी लालू यादव के हाथ में ही है. लेकिन उनके दोनों बेटों तेजस्वी और तेज प्रताप यादव में अक्सर ही मतभेद की बात सामने आती रहती है.

दोनों में आपस में ही नहीं बन रही है. लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप ने तो राजद के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया है. लालू राबड़ी मोर्चा बनाकर दो जगहों से उम्मीदवार उतारने की बात कर रहे हैं.

Related Posts

नहीं थम रहा #Mob का खूनी खेलः बच्चा चोरी के शक में तोड़ रहे कानून, कहीं महिला-कहीं विक्षिप्त की पिटायी

बच्चा चोरी की बात महज अफवाह, अफवाह से बचें और सावधानी और सतर्कता रखें

इसे भी पढ़ेंः इमरान खान को मोदी से उम्मीद, कहा- बीजेपी सत्ता में आयी तो शांति बहाली की बेहतर संभावना

लालू बाहर आकर राजनीति करेंगे : सीबीआई

गौरतलब है कि लालू के जेल में रहने की वजह से अब राजद के पास कोई ऐसा नेता नहीं है जो भाजपा और जदयू को घेर सके जैसे लालू घेरते थे. लालू के छोटे बेटे तेजस्वी कोशिश में हैं लेकिन शायद बिहार की जनता लालू के भाषणों की कमी महसूस कर रही हैं.

लालू भी स्वास्थय के आधार पर जेल से बाहर आना चाहते हैं लेकिन सीबीआई इसके खिलाफ है. सीबीआई का कहना है कि लालू को अगर बेल दे दी गयी तो वो बाहर आकर राजनीति करेंगे. हालांकि लोकसभा चुनाव 2019 में लालू यादव की भूमिका अभी तक सामने नहीं आई है. लेकिन अगर लालू को जमानत मिलती है तो बिहार में चुनावी समीकरण बदल सकते हैं.

वहीं आज की सुनवाई में यह तय हो जाएगा कि लालू बाहर आयेंगे या फिर जेल में ही रहेंगे. उल्लेखनीय है कि मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई करेगी.

इसे भी पढ़ेंःमुरी में हुए कास्टिक तालाब हादसे के मुख्य सचिव ने दिये जांच के आदेश

दिसंबर 2017 से जेल में बंद हैं लालू

उल्लेखनीय है कि चारा घोटाले के तीन मामलों में दोषी करार लालू प्रसाद यादव दिसंबर 2017 से रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं. फिलहाल अपनी बीमारी के कारण वो रिम्स में इलाजरत हैं और पेइंग वार्ड में भर्ती हैं. 71 वर्षीय लालू रक्तचाप, डायबिटीज और दूसरी बीमारियों से पीड़ित हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: