BiharJharkhandRanchi

चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी मामले में लालू यादव ने हाइकोर्ट में दाखिल की जमानत याचिका 

विज्ञापन
Advertisement

Ranchi: चारा घोटाला मामले में बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार होटवार में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव सजा काट रहे हैं. लालू ने चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी मामले में हाइकोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की है.लालू प्रसाद यादव ने झारखंड HC में याचिका दाखिल कर जमानत देने की गुहार लगायी है. याचिका में कहा गया है कि उन्होंने चाईबासा मामले में सीबीआइ कोर्ट से मिली सजा की आधी सजा काट ली है इसलिए उन्हें जमानत की सुविधा प्रदान की जाए.

इसे भी पढ़ें- राज्य में कोरोना से 16वीं मौत, 71 वर्षीय बुजुर्ग ने गंवाई जान

चाईबासा कोषागार मामले में लालू को है पांच साल की सजा

दरअसल, चारा घोटाले से जुड़े दुमका कोषागार से 3.13 करोड़ रुपये की अवैध निकासी के मामले में 2 अलग-अलग धाराओं में लालू को 7-7 साल की सजा सुनाई गई है. जबकि 60 लाख जुर्माना भी लगाया गया है. वहीं देवघर कोषागार से 84.53 लाख रुपये की अवैध निकासी के मामले में उन्हें साढ़े तीन साल की सजा सुनाई गयी है.

advt

जबकि 5 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है. चाईबासा कोषागार से अवैध तरीके से 37.7 करोड़ और 33.67 करोड़ रुपए की अवैध निकासी के मामले में पांच-पांच साल की सजा सुनाई गई है. लालू की यह तीनों सजा एक साथ चल रही है.

इसे भी पढ़ें- विकास दुबे की खोज में पुलिस के कई दल दूसरे राज्यों में भी कर रहे हैं छापेमारी

23 दिसंबर 2017 से जेल बंद हैं लालू 

लालू प्रसाद को चारा घोटाले के दुमका, देवघर और चाईबासा मामले में सीबीआइ कोर्ट ने सजा सुनायी है. इन तीनों मामलों में 23 दिसंबर 2017 से वो जेल में हैं. बीमार होने की वजह से रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती हैं.

गौरतलब है कि लालू प्रसाद डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट की बीमारी, क्रॉनिक किडनी डिजीज, फैटी लीवर, पेरियेनल इंफेक्शन, हाइपर यूरिसिमिया, किडनी स्टोन, फैटी हेपेटाइटिस, प्रोस्टेट जैसी बीमारियों से जूझ रहे हैं. इस वजह से उन्हें बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा होटवार में न रखकर रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती कराया गया है.

इसे भी पढ़ें- रांची के नए एसएसपी सुरेंद्र झा ने राज्यपाल और मुख्यमंत्री से की मुलाकात

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: