BiharJharkhandTOP SLIDER

लालू प्रसाद और ललन पासवान की मोबाइल पर बातचीत मामले में सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों की गर्दन फंसी

बिहार विधानसभा अध्यक्ष चुनाव में हॉर्स ट्रेडिंग मामले में जेल प्रशासन ने उपायुक्त को सौंपी रिपोर्ट

Ranchi: राजद सुप्रीमो और चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. जेल प्रशासन ने जांच रिपोर्ट रांची उपायुक्त छवि रंजन को सौंपी है. इस रिपोर्ट में सुरक्षा में तैनात पुलिस अधिकारी पर सवाल उठाया जा रहा है. सुरक्षा में तैनात पुलिस अधिकारी से ही कोई चूक हुई होगी जिससे मोबाइल लालू तक पहुंच सका. उपायुक्त के निर्देश पर ही जेल प्रशासन ने लालू यादव के द्वारा बिहार के भाजपा विधायक ललन पासवान से बातचीत मामले की जांच की है.

इसे भी पढ़ें :कोरोना वायरस : देश में संक्रमण के मामले पहुंचे 94 लाख पर…

जवानों ने अच्छे ढंग से तलाशी नहीं ली तभी लालू तक पहुंचा मोबाइल

Catalyst IAS
ram janam hospital

इस प्रकरण में लालू ने भाजपा विधायक को मंत्री पद का प्रलोभन देने के साथ-साथ बिहार विधानसभा अध्यक्ष पद के चुनाव की वोटिंग में शामिल नहीं होने की बात कही थी. इस जांच रिपोर्ट में कहा गया है कि केली बंगले में लालू प्रसाद की सुरक्षा में तैनात किये गए रांची पुलिस के जवानों द्वारा अच्छे ढंग से तलाशी नहीं लिए जाने के कारण लालू व के पास मोबाइल पहुंच रहा था. इस रिपोर्ट में लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई करने की अनुशंसा कर सकते हैं.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें :बिहार की राज्यसभा सीट : लोजपा को अपने पाले में करने की जुगत में राजद, मोदी के खिलाफ रीना पासवान को उतारा, तो देंगे साथ…

Related Articles

Back to top button