न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पैसों के लालच में की गयी थी लालमणि की हत्‍या, तीन गिरफ्तार

आदित्य बिड़ला ग्रासिम इंडस्ट्रीज के कर्मी थे लालमणि शुक्ला

54

Palamu : 22 नवंबर को आदित्य बिड़ला ग्रासिम इंडस्ट्रीज के कर्मी लालमणि शुक्ला की हत्या पर से पुलिस ने पर्दा उठा दिया है. मामले में पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पलामू एसपी इंद्रजीत माहथा ने प्रेसवार्ता में बताया कि लालमणि शुक्ला की हत्या पैसों के लालच में की गयी. बताया कि गत 16 नवंबर को गोदरमा कला में प्रसिद्ध भोजपुरी गायक भरत शर्मा का कार्यक्रम आयोजित था. इस कार्यक्रम में डंडिलाखुर्द निवासी लालमणि शुक्ला भी मौजूद थे और नशे में थे. इस दौरान वे खूब पैसे लहरा रहे थे. यह देखकर कार्यक्रम में मौजूद गढ़वा थाना क्षेत्र के अचला नावाडीह निवासी पंकज कुमार चंद्रवंशी और उनके दो मित्र रेहला थाना क्षेत्र के गोदरमा कला निवासी नीरज कुमार शर्मा और रूपेश शर्मा के मन में लालच आ गया.

शराब पीने के लिए भेलवा नदी के पास बुलाया

तीनों ने लालमणि से पैसा लूटने की साजिश रची. इसी कड़ी में 22 नवंबर को पंकज ने फोन करके शराब पीने के लिए भेलवा नदी के पास बुलाया. शराब पीने के दौरान तय साजिश के तहत नीरज ने पास रर्खी इंट से लालमणि के सिर पर वार कर दिया, इससे वे बेहोश हो गए. इसके बाद तीनों ने लालमणि का ही पैंट खोलकर उससे उसका गला घोंट दिया. इस दौरार्न इंट से भी कई प्रहार किये गये, जिससे लालमणि की मौत हो गयी. इसके बाद अभियुक्तों ने लालमणि के पास से तीस हजार रुपये और उसका मोबाइल फोन लूट लिये. अभियुक्तों ने लालमणि का मोबाइल पास के एक कुएं में फेंक दिया.

पूछताछ में पंकज ने सारी कहानी पुलिस को सुना डाली

एसपी ने बताया कि शक के आधार पर सबसे पहले पंकज कुमार चंद्रवंशी को हिरासत में लिया. पूछताछ के दौरान पंकज ने सारी कहानी पुलिस को सुना डाली. उसकी निशानदेही पर अन्य दोनों अभियुक्तों को भी गिरफ्तार कर लिया गया. साथ ही घटना में प्रयुक्र्त इंट, अभियुक्तों के मोबाइल फोन, बीयर की खाली बोतलें बरामद की गयी हैं. छापेमारी दल में पांडू अंचल के पुलिस निरीक्षक दीपनारायण रजक, रेहला थाना प्रभारी विष्णु सिंह, सहायक अवर निरीक्षक राकेश कुमार, मनोज राम, हवलदार जितेंद्र राय, आरक्षी रमेश कुमार सिंह और विजय कुमार यादव शामिल थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: