Budget 2021JharkhandRanchi

लाला इंटरप्राइजेज पर 17 लाख का जुर्माना

05 करोड़ के टी शर्ट बांटने में कुडू फैब्रिक्स पर चल रही है जांच

Ranchi:  2016 में आयोजित झारखंड स्थापना दिवस कार्यक्रम में सिर्फ 35 लाख रुपये की कैंडी बांटी गयी थी. टॉफी की आपूर्ति लाला इंटरप्राइजेज जमशेदपुर की तरफ से की गयी थी.

सरयू राय ने अपने प्रश्न के माध्यम से यह जानना चाहा कि क्या ये आपूर्तिकर्ता फर्जी थे क्योंकि इन्होंने खरीदारी बिस्किट की की थी, और बांटा कैंडी था. ऐसा कैसे हुआ ? इन्होंने विभाग से रोड परमिट लिया ही नहीं तो आपूर्ति कैसे हुई ?

कोई प्रमाण तो देना चाहिये. इसपर मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि इस कंपनी पर विभाग ने टैक्स के अलावा 3 गुना फाइन लगाया गया है. लाला इंटरप्राइजेज पर कुल 17 लाख का फाइन लगाया गया है.

advt

 

इसे भी पढ़ें: Jharkhand Budget Session : जब तक कंप्यूटर ऑपरेटरों की स्थायी बहाली नहीं होगी, नहीं हटाये जाएंगे टेंपररी ऑपरेटर

टी शर्ट बांटने वाली कंपनी ने भी नहीं लिया रोड परमिट

सरयू राय ने सदन में बताया कि 05 करोड़ के राशि के टी शर्ट राज्य के सभी स्कूलों में बांटे गए थे. पर जो आंकड़ा दर्शाया गया है उसमें नौ हजार स्कूलों का अंतर है.

सभी स्कूलों से जो प्राप्ति का राशिद लिया गया है ऐसा लगता है कि एक ही व्यक्ति ने सभी स्कूलों का सिग्नेचर कर दिया है. सभी का रसीद भी एक ही कंप्यूटर से एक ही फॉर्मेट में निर्गत किया गया है. इसपर कुडू फैब्रिक्स ने इनवॉइस दिया है और उनपर जांच चल रही है.

सरयू राय ने कहा कि कुडू फैब्रिक्स ने रांची धनबाद जमशेदपुर में टी शर्ट आपूर्ति करने के लिये झारखंड सहित अन्य राज्यों ने रोड परमिट नहीं लिया तो टी शर्ट आया कैसे. इसकी भी जांच होनी चाहिए. इसपर मंत्री रामेश्वर उरांव ने आश्वासन दिया कि यह तीन विभागों का मामला है तीनों विभागों से बात कर जांच करायी जाएगी.

 

इसे भी पढ़ें: जंगलों को आग से बचाने के लिए तैनात किए जाएंगे फायर वाचर

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: