न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कुलभूषण जाधव मामला :  पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में 17 जुलाई को दूसरा हलफनामा दाखिल करेगा   

584

Islamabad :  भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मामले में पाकिस्तान 17 जुलाई को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) में अपना दूसरा जवाबी हलफनामा दाखिल करेगा. जाधव को पिछले साल अप्रैल में पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जासूसी और आतंकवाद के आरोपों में मौत की सजा सुनाई थी.  मीडिया की गुरुवार की एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गयी है. बता दें कि आईसीजे ने 23 जनवरी को भारत और पाकिस्तान दोनों को इस मामले में दूसरे दौर के हलफनामे दाखिल करने की समयसीमा दी थी.  पाकिस्तान का यह हलफनामा भारत की ओर से 17 अप्रैल को दाखिल हलफनामे के जवाब में होगा.  एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि मुख्य अटॉर्नी खावर कुरैशी ने प्रधानमंत्री नसीरूल मुल्क को पिछले सप्ताह इस मामले की जानकारी दी थी.

mi banner add

यह हलफनामा कुरैशी ने तैयार किया है

कुरैशी ने शुरूआत में इस मामले में पाकिस्तान की ओर से पैरवी की थी.  रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के अटॉर्नी जनरल खालिद जावेद खान तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी बैठक में शामिल हुए थे और यह हलफनामा कुरैशी ने तैयार किया है. दूसरा हलफनामा पेश होने के बाद आईसीजे इस मामले में सुनवाई की तारीख तय करेगा, जिसके अगले साल होने की उम्मीद है.  अंतरराष्ट्रीय मुकदमे के विशेषज्ञ एक वरिष्ठ वकील ने समाचार पत्र को बताया कि इस साल इस मामले की सुनवाई होने की उम्मीद नहीं है.

आईसीजे ने जाधव की मौत की सजा पर रोक लगाई थी

Related Posts

भारत में बाढ़ के कारण 20 साल में  547 लाख करोड़ रुपए का नुकसान  : संयुक्त राष्ट्र

देश में हर साल की तरह इस बार भी बाढ़ अपना विकराल रूप दिखा रही है. जान लें कि वर्तमान में  एक दर्जन राज्यों से ज्यादा राज्य बाढ़ की चपेट में है,

उन्होंने कहा कि अन्य मामलों की सुनवाई अगले साल मार्च / अप्रैल के लिए पहले ही निर्धारित है ऐसे में जाधव मामला अगले साल गर्मिेयों के लिए सूचीबद्ध किया जायेगा.  बता दें कि पाकिस्तान की सैन्य अदालत द्वारा जाधव को मौत की सजा सुनाये जाने के बाद भारत पिछले साल मई में आईसीजे में गया था, जिसके बाद आईसीजे ने 18 मई को पाकिस्तान पर मामले का निपटारा होने तक जाधव की मौत की सजा की तामील पर रोक लगा दी थी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: