न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कोलकाता : जनसभा में भारी भीड़ देख बोले मोदी, समझ आ गया, दीदी हिंसा पर क्यों उतारू हैं   

प्रधानमंत्री की रैली में भीड़ इतनी ज़्यादा थी कि भगदड़ जैसी स्थिति पैदा हो गयी. यह भांप कर मोदी ने मात्र 14 मिनट में अपना भाषण समाप्त कर दिया.  

123

Kolkata : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को पश्चिम बंगाल के ठाकुर नगर,दुर्गापुर में जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी पर हमलावर हुए. भाषण के क्रम में पीएम ने राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार पर हिंसा फैलाने का आरोप लगाया. पीएम मोदी ने लोगों को बताया कि ममता बनर्जी सरकार हिंसा पर क्यों उतर आयी है. भारी भीड़ देख गदगद हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज की रैली का दृश्य देखकर उन्हें यह समझ आ गया है कि दीदी हिंसा पर क्यों उतर आयी हैं. मोदी ने कहा कि हमारे प्रति बंगाल की जनता के प्यार से डरकर लोकतंत्र के बचाव का नाटक करने वाले लोग निर्दोष लोगों की हत्या करने पर तुले हुए हैं. प्रधानमंत्री की रैली में भीड़ इतनी ज़्यादा थी कि भगदड़ जैसी स्थिति पैदा हो गयी. यह भांप कर मोदी ने मात्र 14 मिनट में अपना भाषण समाप्त कर दिया.

खबरों के अनुसार पीएम मोदी जब भाषण दे रहे थे उस समय भारी भीड़ के कारण कई लोग एक-दूसरे के साथ धक्का-मुक्की लगे.  इसके बाद बाद पीएम मोदी ने उन्हें धक्का-मुक्की नहीं करने के लिए कहा. इस क्रम में कहा कि कार्यकर्ताओं के उत्साह से यह जगह कम पड़ गयी और मैदान छोटा पड़ गया.  इससे लोगों को असुविधा हो रही है.  आप लोग धक्का-मुक्की न करें. पीएम मोदी लोगों को समझाते रहे कि आप जहां हैं, वहां रहें. पीएम मोदी ने कहा, मेरी आपसे विनती है कि मैदान में अब जगह नहीं है, आप ऐसा मत कीजिए. आपका प्यार और उमंग मेरे सिर आंखों पर है. आज ये जगह छोटी पड़ गयी, इसके कारण आपको असुविधा हो रही है.

टीएमसी और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट की घटना

hosp1

इस अपील  के साथ जनसभा में आये जनसैलाब का तर्क देते हुए पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमलावर हुए. पीएम मोदी ने कहा कि अब उन्हें समझ आया है, ममता दीदी हिंसा पर क्यों उतर आयी हैं. उन्होंने कहा, यह आपका प्यार है, जिसके डर के कारण लोकतंत्र बचाने का नाटक करने वाले लोग निर्दोष लोगों की हत्या करने पर तुले हुए हैं. बता दें कि भाजपा पश्चिम बंगाल में अपने कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट व हत्या के आरोप तृणमूल कांग्रेस पर लगा रही है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह समेत भाजपा टीएमसी पर गुंडागर्दी का आरोप लगाते हुए इसे चुनावी मुद्दा बना रही है. इसी कड़ी में आज पीएम मोदी ने भी ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए यह मसला उठाया और इसका कारण भाजपा को मिल रहे जनता के समर्थन को बताया.

बता दें कि पीएम मोदी की रैली से पहले भी सत्ताधारी टीएमसी और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट की घटना देखने को मिली. दुर्गापुर में मोदी के पोस्टरों पर ममता बनर्जी के पोस्टर लगाने को लेकर दोनों पार्टी के कार्यकर्ताओं में हिंसक झड़प देखने को मिली. इसके अलावा अलग-अलग रास्तों पर लगे पीएम मोदी के पोस्टरों पर कालिख भी फेंकी गयी.

देश का दुर्भाग्य रहा कि गांवों की स्थिति पर ध्यान नहीं दिया गया

पीएम मोदी ने कहा, यह देश का दुर्भाग्य रहा कि आजादी के बाद भी अनेक दशकों तक गांवों की स्थिति पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितना देना चाहिए था. यहां पश्चिम बंगाल में तो स्थिति और भी खराब है.  हमारी सरकार हालात बदलने की कोशिश कर रही है. यहां की सरकारों ने कभी भी गांवों की तरफ घ्यान नहीं दिया. पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमलावर होते हुए कहा कि कई बार किसानों के साथ कर्जमाफी की राजनीति कर उनकी आंखों में धूल झोंकी गयी. चुनाव को देखते हुए कर्जमाफी कर वह किसानों का कुछ भला नहीं कर रहे थे. कहा कि चंद किसानों को इसका लाभ मिलता था. छोटे किसान इंतजार करते रह जाते थे.  जिनको कर्जमाफी का लाभ मिलता था, वे कर्जदार बन जाते थे.  मोदी ने कहा कि अभी कुछ राज्यों में कर्जमाफी के नाम पर किसानों से वोट मांगे गये.  ऐसे किसानों की कर्जमाफी हो रही है, जिसने कर्ज लिया ही नहीं है.  एमपी में 13 रुपये की कर्जमाफी हो रही है. राजस्थान में बहाना बनाया जा रहा है कि हमें पता नहीं था कि कर्जमाफी का बोझ इतना बड़ा है.

इसे भी पढ़ें : राहुल का हमला, नोटबंदी और भ्रष्टाचार को लेकर मोदी सरकार पर होगी सर्जिकल स्ट्राइक

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: