न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कोलकाता : #NaradSting में #CBI ने मिर्जा के साथ #MukulRoy के घर जाकर की पूछताछ

646

Kolkata : नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में घिरे भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य मुकुल रॉय से दूसरे दिन रविवार को सीबीआई की टीम ने पूछताछ की है.

उनके कोलकाता के एलगिन रोड स्थित आवास पर जांच एजेंसी के अधिकारी इस मामले में गिरफ्तार आइपीएस अधिकारी एसएमएच मिर्जा को लेकर सुबह 10:30 बजे के करीब पहुंचे थे.

इस मामले में उनसे करीब ढाई घंटे तक पूछताछ की गयी है.

एजेंसी सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में पांच लाख रुपये घूस लेकर मिर्जा ने मुकुल के इसी आवास पर आकर रुपये दिये थे.

hotlips top

इसे भी पढ़ें : जमशेदपुर : ढाई साल से सड़ रही थी #CM_Canteen योजना की 8 गाड़ियां, #Election आया तो दिया सर्विसिंग का #order

रिकॉर्ड किया गया वीडियो

उसका वीडियो रिकॉर्ड किया गया है. मिर्जा के बताये मुताबिक यह वीडियो रिकॉर्डिंग हुई है. कहा जाये तो नारद स्टिंग मामले में रुपये लेने की घटना का पुनर्निर्माण किया गया है.

इसके पहले शनिवार को मुकुल निजाम पैलेस स्थित जांच एजेंसी के क्षेत्रीय मुख्यालय में पहुंचे हुए थे जहां उन्हें इस मामले में गिरफ्तार किये गये आइपीएस अधिकारी एसएमएच मिर्जा के आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गयी थी.

दोनों का बयान रिकॉर्ड किये गये थे.

इस बारे में रविवार दोपहर सीबीआइ के क्षेत्रीय निदेशक पंकज श्रीवास्तव ने बताया कि जांच एजेंसी की टीम ने शनिवार हुई पूछताछ के बाद उसका वीडियो देखा जिसके बाद कई सवाल खड़े हुए थे.

उसका जवाब लेने के लिए मुकुल के घर गयी थी. इसके साथ ही वीडियो रिकॉर्ड किया गया है.

मुकुल से पूछा गया है कि वह मैथ्यू से क्यों मिले थे, उन्होंने क्या कहा था, घूस के रुपये के बारे में क्या बात हुई थी और रुपये लेने के बाद क्या आइपीएस अधिकारी एसएमएच मिर्जा ने उनसे दोबारा संपर्क किया या नहीं?

इसे भी पढ़ें : #ODF Gumla का सच : इंजीनियर के फर्जी हस्ताक्षर से निकले 1.16 करोड़, इससे बनने थे 928 शौचालय

घूस लेने का बना लिया था वीडियो

उल्लेखनीय है कि 2014 में नारद स्टिंग ऑपरेशन के समय नारद न्यूज़ पोर्टल के सीईओ मैथ्यू सैमुअल ने एक फर्जी कंपनी के निदेशक बनकर मुकुल रॉय समेत तृणमूल कांग्रेस के 11 नेताओं मंत्रियों से मुलाकात की थी.

उस समय कंपनी के अवैध कारोबार को फैलाने में मदद करने के नाम पर घूस लेते हुए उनका वीडियो बना लिया था. इसकी जांच कोर्ट के आदेश पर सीबीआई कर रही है.

इस मामले में गत गुरुवार को आइपीएस एसएमएच मिर्जा के रूप में पहली गिरफ्तारी की गयी है. वे हिरासत में है और आमने-सामने बैठाकर मुकुल रॉय से भी पूछताछ हुई है.

उस समय मुकुल रॉय से यह सवाल पूछने पर कि मैथ्यू से लिये गये रुपये को मिर्जा ने उन्हें दिया या नहीं दिया, तब मुकुल ने इससे इनकार कर दिया था.

मुकुल राय से पूछताछ करने रविवार को सीबीआइ की टीम उनके घर गयी थी.

पत्रकार ने जतायी खुशी

उनके घर सीबीआइ टीम के पहुंचने को लेकर स्टिंग ऑपरेशन को अंजाम देने वाले पत्रकार मैथ्यू सैमुअल ने खुशी जतायी है.

उन्होंने कहा है कि आज के दौर में इस किस्म की पत्रकारिता की जरूरत है ताकि भ्रष्ट नेताओं को उजागर किया जा सके.

मैथ्यू ने कहा कि इस मामले में जब जांच चल रही थी तब सीबीआई, ईडी ने उन्हें कम से कम 25 बार बुलाया है. एक तरह से उन्हें परेशान किया गया. रुपये खर्च हुए, समय की बर्बादी हुई.

लोग कह रहे थे कि राजनीति से प्रेरित होकर स्टिंग ऑपरेशन किया गया था लेकिन अब मुझे खुशी है कि इस मामले में प्रभावशाली नेताओं तक सीबीआई के हाथ पहुंच रहे हैं.

अब कोई नहीं कहेगा कि इस स्टिंग ऑपरेशन के पीछे राजनीतिक वजह थी.

मुख्यमंत्री के इशारे पर मेरे खिलाफ हो रही है साजिश : मुकुल रॉय

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य मुकुल रॉय ने रविवार को कहा कि उनके खिलाफ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के इशारे पर साजिशें रची जा रही हैं.

जांच एजेंसी के पूछताछ कर जाने के बाद इस मामले में जब मुकुल रॉय से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है.

मुकुल ने कहा कि किसी भी मामले में अगर कोई गिरफ्तार होता है तो उस पर मेरा नाम लेने के लिए राज्य प्रशासन की ओर से दबाव बनाया जा रहा है.

नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में भी आईपीएस एसएमएच मिर्जा पर इसी तरह का दबाव राज्य प्रशासन की ओर से है.

उन्होंने कहा कि मिर्जा ने अपनी गिरफ्तारी के बाद दावा किया है कि वह मैथ्यू सैमुअल को लेकर कई बार मेरे घर आये थे जो सरासर झूठ है.

मिर्जा ना तो कभी मेरे घर आये और न ही किसी तरह के रुपये मैंने किसी से ली है.

मुकुल ने दोहराया कि नारदा स्टिंग ऑपरेशन के वीडियो में देखा जा सकता है कि उन्होंने रुपये नहीं लिये हैं. उन्हें किसी ने भी कहीं भी किसी तरह के रुपये लेते हुए नहीं देखा है.

इस मामले में मेरे खिलाफ साजिश रची जा रही है. उन्होंने कहा कि नारद स्टिंग ऑपरेशन के मामले में वह जांच एजेंसी के साथ पूरी तरह से सहयोग करने के लिए तैयार हैं. हर बार पूछताछ में सहयोग करेंगे.

इसे भी पढ़ें : #JAP: जैप वन, जहां नवरात्रि में पंडाल तो बनता है लेकिन प्रतिमा नहीं बैठाई जाती, जानें क्‍या है मान्‍यता

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like