न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कोलेबिरा उपचुनाव : जीत के बाद कांग्रेस ने हेमंत को दी घुड़की, कहा- कांग्रेस अकेले भी चुनाव लड़ने को तैयार

160

Ranchi : कोलेबिरा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी नमन विक्सल कोंगाड़ी की जीत के बाद राज्य की राजनीति फिर से गरमा गयी है. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने कोलेबिरा के परिणाम को राज्य की भावी राजनीतिक दशा और दिशा तय करने में निर्णायक बताया है, तो जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने कहा है कि यदि चुनाव पूर्व महागठबंधन का स्वरूप तैयार होता, तो किसी प्रकार की कोई दुविधा आज नहीं होती. स्वरूप नहीं बन पाने के कारण इस उपचुनाव में मतों का विभाजन हुआ. दूसरी ओर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रदीप तुलस्यान ने कहा कि उपचुनाव परिणाम से साबित होता है कि कांग्रेस पार्टी अकेले ही चुनाव लड़ने को तैयार है. वहीं, वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय ने जेल में बंद पूर्व विधायक एनोस एक्का को घेरते हुए कहा कि उनके खौफ को कोलेबिरा की जनता ने नकार दिया है.

भावी राजनीतिक दशा और दिशा तय करेगा यह परिणाम : डॉ अजय कुमार

उपचुनाव में कोलेबिरा की जनता को धन्यवाद देते हुए प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने कहा कि यह परिणाम भाजपा के कुशासन व जनविरोधी नीतियों के खिलाफ है. कोलेबिरा की जनता ने पूरे राज्य में एक व्यापक संदेश दिया है. कोलेबिरा उपचुनाव का परिणाम राज्य की भावी राजनीतिक दशा और दिशा तय करेगा. वहीं, कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा है कि कोलेबिरा की जनता ने कांग्रेस पर विश्वास जताकर यह साफ संदेश दिया है कि कांग्रेस की विचारधारा ही इस राज्य को आगे लेकर चल सकती है.

भावी राजनीतिक दशा और दिशा तय करेगा यह परिणाम : डॉ अजय कुमार
डॉ अजय कुमार ने ट्वीट कर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को दी बधाई.

कांग्रेस की अगुवाई में परिवर्तन की लहर शुरू : सुबोधकांत सहाय

कांग्रेस प्रत्याशी की जीत को पार्टी के नेतृत्व और नीतियों के प्रति जनता के बढ़ते भरोसे का प्रतीक बताते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ नेता सुबोधकांत सहाय ने कहा कि कांग्रेस की अगुवाई में परिवर्तन की लहर शुरू हो चुकी है. आगामी लोकसभा और विधानसभा के चुनावों में भी यही परिणाम दोहराये जानेवाले हैं. सुबोधकांत ने कहा कि केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार से लोगों का अब पूरी तरह मोह भंग हो चुका है. भाजपा ने महज जुमलेबाजी कर पूरे देश को गुमराह करने का काम किया है. वहीं, जेल में बंद सजायाफ्ता एनोस एक्का ने अपनी पत्नी और झारखंड पार्टी की प्रत्याशी मेनन एक्का के लिए खौफ का जो कारोबार चलाया था, उसे भी जनता ने पूरी तरह से नकारा है.

महागठबंधन का दायरा बढ़े, इसलिए दिया झापा को समर्थन : हेमंत सोरेन

समर्थन दिये जाने के बाद भी झापा प्रत्याशी मेनन एक्का की हार पर महागठबंधन पर पड़नेवाले प्रभाव पर हेमंत सोरेन ने प्रेस वार्ता कर कहा कि यह दुविधा जिस तरह से बनी है, उसका कारण महागठबंधन का स्वरूप नहीं बन पाना है. महागठबंधन का अभी औपचारिक स्वरूप तैयार नहीं हुआ है. अगर उपचुनाव पूर्व स्वरूप को अंतिम रूप दे दिया जाता, तो शायद किसी प्रकार की दुविधा नहीं होती. उन्होंने कहा कि स्वरूप को अंतिम रूप नहीं देने के कारण ही महागठबंधन का दायरा बढ़ाने के लिए जेएमएम और राजद ने झापा प्रत्याशी को समर्थन दिया था. हालांकि, इस दौरान हेमंत सोरेन ने महागठबंधन के संभावित दलों के बीच किसी तरह का कोई विरोधाभास और द्वंद्व नहीं होने की भी बात कही. उन्होंने कहा कि चुनिंदा व्यावसायिक घरानेवालों की हिमायती भाजपा को सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिए जेएमएम समान विचारधारा वाली पार्टी के साथ चलने को तैयार है.

जेएमएम करे आकलन, कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ने को तैयार है : प्रदीप तुलस्यान

कोलेबिरा उपचुनाव में झापा प्रत्याशी को समर्थन दिये जाने के बाद महागठबंधन पर पड़नेवाले प्रभाव के सवाल पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रदीप तुलस्यान ने न्यूज विंग को बताया कि कोलेबिरा उपचुनाव के नतीजे से जेएमएम अपना सही आकलन करे. इस उपचुनाव में जीत हासिल कर कांग्रेस ने यह बता दिया है कि पार्टी राज्य में आगामी चुनावों को अकेले भी लड़ने को तैयार है.

मूल सिंद्धातों का पालन करें दोनों पार्टी, तो बेहतर होगा : कुमार गौरव

युवा कांग्रेस अध्यक्ष कुमार गौरव ने कहा कि कोलेबिरा परिणाम का आगामी चुनावों और महागठबंधन पर कोई विशेष प्रभाव नहीं पड़ेगा. हालांकि, इस दौरान उन्होंने जेएमएम को नसीहत भी दी. उन्होंने कहा कि महागठबंधन के मूल सिद्धांतों और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सामने हुई बातों को लागू कर अगर दोनों दल एक-दूसरे का साथ दें, तो दोनों दलों के लिए यह बेहतर होगा.

महागठबंधन के लिए काफी मायने रखता है कोलेबिरा परिणाम : बाबूलाल मरांडी

कोलेबिरा उपचुनाव में कांग्रेस की जीत पर जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने कांग्रेस पार्टी को बधाई दी है. कोलेबिरा की जनता के प्रति आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि यह जीत गठबंधन की जीत है और इस जीत के मायने भी काफी अहम हैं. कोलेबिरा की जनता का यह जनादेश 2019 में होनेवाले चुनाव के लिए प्रदेश की जनता का मूड बताने के लिए काफी है.

इसे भी पढ़ें- कांग्रेस को कोलेबिरा का ताज, बीजेपी-जेएमएम के उम्मीदवार धराशायी

इसे भी पढ़ें- 25 चयनित युवा स्टार्ट अप को नहीं मिल रही वित्तीय सहायता, सरकार ने खड़े किये हाथ

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: