Crime NewsJharkhandKoderma

Koderma: बच्चे को चाइल्डलाइन द्वारा नहीं सौपे जाने पर परिजनों ने किया हंगामा

Koderma: झुमरीतिलैया भादोडीह स्थित चाइल्डलाइन सेंटर में बच्चे को नहीं सौपे जाने पर परिजनों ने जमकर हंगामा किया. जानकारी अनुसार गया निवासी मोहम्मद शकील सोमवार को चाइल्डलाइन पहुंचकर बाल गृह में रह रहे अपने पुत्र को सौंपने की मांग की. बाल गृह के अधीक्षक द्वारा सौपने में असमर्थता जताने एवं बच्चे द्वारा पिता को यह बताने पर कि उसके साथ मारपीट किया जााता है, परिजनों ने जमकर हंगामा किया.

इसे भी पढ़ें:हैवियस कॉर्पस मामलाः हाइकोर्ट ने सीडब्ल्यूसी को जवाब दाखिल करने का दिया निर्देश

काफी समझाने बुझाने के बाद बालक के पिता व अन्य परिजन शांत हुए. इसके बाद बच्चे के पिता उपायुक्त से मिलकर शिकायत करने की बात करते हुए चले गए. समाचार लिखे जाने तक परिजनों द्वारा इसी प्रकार का आवेदन उपायुक्त को नहीं दिया गया था.

उल्लेखनीय रहे कि झारखंड हाईकोर्ट ने बाल हित पर सरकार की संवेदनहीनता पर कटाक्ष करते हुए सरकार को 2 महीने के अंदर समिति गठन करने का निर्देश दिया है.

इसे भी पढ़ें:लापता पत्नी ने फेसबुक पर पति से लाइव चैट में कहा – मैं अकेले रहना चाहती हूं, मुझे खोजना मत

बताते चलें कि 31 अगस्त को ही पूरे झारखंड में बाल कल्याण समिति और जेजेबी के सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो गया है. 1 सितंबर से पूरे राज्य में बच्चों के मामले को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है.

जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को अध्यक्ष तथा सीडीपीओ को सदस्य का प्रभार दिए गया था. जिसे झारखंड उच्च न्यायालय ने सिरे से खारिज करते हुए कहा था कि सीडब्ल्यूसी एवं जेजेबी महत्वपूर्ण संस्थाओं में शामिल है.

इसे भी पढ़ें:कोवैक्सीन को डब्ल्यूएचओ की मंजूरी के लिए अभी करना होगा इंतजार

Advt

Related Articles

Back to top button