Koderma

कोडरमा: मां लक्ष्मी का रथ पहुंचा झुमरी तिलैया, निकली शोभा यात्रा

Koderma:  आग्रोहा से निकला मां लक्ष्मी का रथ बुधवार को झुमरी तिलैया पहुंचा. देश भर में 18 राज्यों में से 11 राज्यों यह रथ भ्रमण कर चुका है. झारखण्ड में 13 सितम्बर को सिमडेगा में यह प्रवेश किया और सभी जिलों का भ्रमण करते हुए 28 सितम्बर को झुमरीतिलैया पहुंचा. यह रथ 4 अक्टूबर को झुमरीतिलैया से पश्चिम बंगाल के लिए रवाना होगा. रथ के कोडरमा पहुंचने पर अग्रवाल समाज ने इसका स्वागत किया और सीताराम ठाकुरबाडी से संध्या में शोभायात्रा निकाली गई. इसमें सबसे आगे आग्रोहा से चला मां लक्ष्मी का रथ के बाद महाराजा अग्रसेन का रथ चल रहा था. वहीं समाज के 18 बच्चे 18 गोत्र की पटटी लगाये शोभा यात्रा में शामिल हुए. शोभा यात्रा अडडी बंगला स्टेशन रोड, झंडा चौक, रांची पटना रोड होते हुए श्री अग्रसेन भवन में पहुंच कर संपन्न हुई.

शोभा यात्रा में महिलायें लाल साडी और पुरूष कुर्ता पैजामा तथा राजस्थानी वेशभूषा में साफा लगाकर चल रहे थे. अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन के राष्ट्रीय महामंत्री राष्ट्रीय संयोजक रथ यात्रा तथा झारखण्ड मारवाडी सम्मेलन के प्रदेश अध्यक्ष बसंत मित्तल, झारखण्ड प्रदेश रथ यात्रा संयोजक सावरमल अग्रवाल, झारखण्ड प्रांतीय युवा अध्यक्ष सुभाष पटवारी, अग्रवाल समाज के अध्यक्ष विश्वनाथ दारूका, कार्यक्रम संयोजक प्रदीप केडिया शोभा यात्रा का नेतृत्व कर रहे थे. सम्मेलन के राष्ट्रीय संयोजक श्री मित्तल ने बताया कि आग्रोहा में विश्व स्तरीय मां लक्ष्मी के मंदिर का निर्माण हो रहा है जिसमें 100 करोड रूपये खर्च होगें. सम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गोपालशरण गर्ग का मानना है कि समाज का कोई एक व्यक्ति या 100 व्यक्ति मिलकर मंदिर का निर्माण कर सकता था लेकिन 10 करोड अग्रवाल 135 करोड भारतीय तक रथ पहुंच कर मंदिर के सहयोग के लिए 500 रूपये का हुंडी ले रहा है. आग्रोहा शक्ति पीठ में देश के अग्रवाल स्वतंत्रता सेनानी एवं समाज सेवियों की प्रतिमा भी लगायी गई है. देश के 118 नदीयों समुद्रों एवं सागर से जल लाकर आग्रोहा में प्रवाहित किया गया है और सरोवर कुंड बनाकर यहां तर्पण कर सकते है.

बताया कि देश में चार धाम है और 5वॉ धाम आग्रोहा बन रहा है. इधर शोभा यात्रा में नवीन पांडेया के द्वारा भजन जय जय अग्रसेन आग्रोहा तेरी जय हो पितामाह …. आन बान और शान है जो अग्रवाल समाज मिलकर सारे बोलो महाराजा अग्रसेन … जैसे गीत प्रस्तुत किया गया. इस दौरान एक रूपये एक ईंट महाराजा अग्रसेन की यही रीत’ शहर गुंजेमान होता रहा है. शोभा यात्रा में संजीव खेतान, गोपी कृष्ण अग्रवाल, महेश दारूका, श्यामसुंदर सिंघानियॉ, अशोक पिलानियॉ, किशन संघई, मनोज केडिया, संदीप हिसारिया, संजय खेमानी, संजय लडढा, हिमांशु केडिया, राधेश्याम मोदी, प्रदीप बंसल, आयुष पोददार, अजय अग्रवाल, अरविन्द चौधरी, विपुल चौधरी, अनुप सरावगी, संजय अग्रवाल, विनीत संघई, संजय खेमानी, अतुल खेतान, रतन संघई, प्रदीप खाटुवाला, गोपाल बगडिया, संजय नरेडी, पिंकी खेतान, बबीता केडिया, श्रेया केडिया, मंजु संघई, रूही संघई, सोनल खेतान, स्नेहा खेतान, ममता नरेडी, कृतिका मोदी, निशा केडिया, मिनी हिसारिया, प्रीति केडिया, रश्मि केडिया, प्रीति अग्रवाल, रजनी अग्रवाल, प्रीति गुटगुटिया,आशा बजाज, मधु अग्रवाल, श्वेता गुटगुटिया, तविशि अग्रवाल, तनिषा अग्रवाल, स्वाति अग्रवाल, प्रीति जगनानी, सरिका लडढा, खुशबू केडिया सहित मारवाडी युवा मंच प्रेरणा शाखा के पदाधिकारी, सदस्य आदि मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें: कोडरमा: हत्या के दो दोषियों को आजीवन कारावास की सजा, 25 हजार रुपये लगाया जुर्माना

Related Articles

Back to top button