JharkhandKoderma

कोडरमा : डीवीसी प्रबंधन की मनमानी के खिलाफ विस्थापितों का धरना प्रदर्शन

Koderma : संयुक्त विस्थापित मजदूर मोर्चा द्वारा डीवीसी प्रबंधन की मनमानी, विधायक की कार्यशैली व बीकेबी कंपनी की मनमानी सहित विस्थापित प्रभावित परिवारों की उपेक्षा के खिलाफ सोमवार को केटीपीएस प्लांट के गेट नंबर एक पर धरना दिया गया. धरना के पूर्व फोरलेन चौक से रैली निकाली गयी.

रैली का नेतृत्व बरकट्ठा विधानसभा के युवा नेता उमेश यादव, जिप सदस्य महादेव राम, मजदूर नेता विजय पासवान, झामुमो नेता श्यामदेव यादव ने संयुक्त रूप से किया.

advt

रैली के दौरान डीवीसी प्रबंधन हाय हाय, विधायक अपनी कार्यशैली में सुधार लाये, बीकेबी कंपनी की मनमानी नहीं चलेगी, विस्थापितों को हक अधिकार व रोजगार देना होगा. बाहरी लोगों को प्लांट में लगाना बंद करो आदि नारे लगाये जा रहे थे.

इसे भी पढ़ें:रूपा तिर्की केस: सीबीआइ को मिला कांग्रेस विधायक बंधु तिर्की का ऑडियो, वीडियो टेप, परिजनों को कर रहे हैं ‘मैनेज’- सुनिये ऑडियो..

रैली गेट नंबर एक पर पहुंचकर धरना में तब्दील हो गयी. कार्यक्रम की अध्यक्षता मुखिया सुरेंद्र प्रसाद यादव व संचालन युवा विस्थापित नेता अरूण यादव ने किया.

अपने अध्यक्षीय भाषण में सुरेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि शिलान्यास काल से अब तक प्रबंधन ने विस्थापितों को छलने का काम किया है, हक व अधिकार के लिए रोज धरना प्रदर्शन करना पड़ रहा है, प्रबंधन अपने रवैये में सुधार लाये.

युवा नेता उमेश यादव ने कहा कि सांसद, विधायक के इशारे पर प्लांट चल रहा है, जबकि इस इलाके के वास्तविक लाभुकों के हक व अधिकार का हनन हो रहा है. जिस परिवार ने जमीन दी है उस परिवार का युवा रोजगार के लिए भटक रहा है.

इसे भी पढ़ें :गरीबों को मिलेगा सोना-सोबरन धोती साड़ी योजना का लाभ, 22 सितंबर को सीएम करेंगे शुभारंभ

मजदूर नेता विजय पासवान ने कहा कि मजदूरों से काम लिया जा रहा है, मगर सुरक्षा के मानकों का अनुपालन नहीं किया जा रहा है. बीती रात भी एक मजदूर सुरक्षा मानकों के अभाव में झुलस गया, फिलहाल उसका इलाज बोकारो में चल रहा है.

कार्यक्रम को भाकपा नेता पुरूषोतम यादव, स्थानीय मुखिया बालालखेंद्र पासवान, लोजपा नेता डा. बासुदेव पासवान, मुखिया लक्ष्मण यादव, मुखिया प्रतिनिधि धानेश्वर साव, सेवानिवृत शिक्षक रामप्रसाद सिंह, सीपीआई नेता महेश सिंह, बलराम राणा, छोटू यादव आदि ने संबोधित किया. मौके पर सविता देवी, रंजीत भारती, शारो देवी, रमनी देवी, लुटनी देवी, रीना देवी, पार्वती देवी, मंजु देवी, ललिता देवी, दशरथ पासवान, छोटू यादव, पप्पू साव सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें: पोर्नोग्राफी केस में शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा को मिली बेल, कहा- बिना सबूत बनाया बलि का बकरा

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: