न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

खूंटी : कोचांग ग्राम प्रधान की हत्या, आरोपियों की गिरफ्तारी में जुटी पुलिस

845

Khunti : पत्थलगड़ी आरोपी और कोचांग ग्राम प्रधान सुखराम मुंडा की शनिवार रात हुए हत्या कर दी गयी. मामले को लेकर खूंटी पुलिस हत्यारे की गिरफ्तारी में जुटी है. पुलिस का कहना है कि आरोपियों की गिरफ्तरी के बाद ही मामले का खुलासा हो सकेगा कि आखिर क्यों सुखराम की हत्या की गयी है.

गौरतलब है कि सुखराम मुंडा पत्थलगड़ी मामले में नामजद था और पुलिस व सरकार की सख्त रुख के बाद अंडरग्राउंड हो गया था. सुखराम पर अड़की थाने में पत्थलगड़ी से संबंधित छह मामले दर्ज हैं.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

अड़की के अलावा वह अड़की के कोचांग, कुरुंगा आदि क्षेत्रों में सरकार-प्रशासन के विरुद्ध ग्रामीणों को भड़काने में सक्रिय था. एक साल पहले पुलिस अफसरों और कर्मियों को बंधक बनाने में भी उसकी भूमिका रही थी.

इसे भी पढ़ें – CNT उल्लंघन मामले में कल्पना सोरेन और जमीन बेचने वाले राजू उरांव को नोटिस

शनिवार रात हुई हत्या

अड़की थाना क्षेत्र के कोचांग चौक के पास शनिवार की रात करीब 8:30 बजे के आसपास
दो-तीन बाइक पर सवार लगगभ छह की संख्या में आये लोगं ने सुखराम को गोली मार दी. जिससे की मौके पर ही उसकी मौत हो गयी.

घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस फिलहाल मामेल की छानबीन कर रही है. वहीं रविवार को पोस्टमार्टम के बाद सुखराम का शव परिजनों को सौंप दिया जाएगा.

गांव में घुसने के लिए लेनी पड़ती थी ग्राम प्रधान की अनुमती

Related Posts

अड़की के कोचांग व कुरूंगा क्षेत्र में सुखराम मुंडा सक्रिय था. यह क्षेत्र जून 2018 तक पूरी तरह पत्थलगड़ी क्षेत्र था. यहां पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों और बाहरी तत्वों की गांव में गांव में प्रवेश पर रोक थी.

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

इसके लिए ग्राम प्रधान से अनुमति लेनी पड़ती थी. सुखराम मुंडा कोचांग का ग्राम प्रधान था, इसलिए गांव में घुसने से पहले उससे ही अनुमति नेली पड़ती थी.

इसे भी पढ़ें – राजधानी रांची की 22 किमी लम्बी मुख्य सड़क में 72 गड्ढे, अधिकांश जानलेवा

आरोपियों की गिरफ्तारी में जुटी पुलिस

इस मामले में खूंटी एसपी श्री आलोक का कहना है कि सुखराम मुंडा हत्या मामले में पुलिस जांच कर रही है. जल्द से जल्द इस मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी.

आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही पता चल पाएगा कि सुखराम मुंडा की हत्या किस वजह से की गई है. फिलहाल लोगों से पूछताछ की जा रही है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like