Lead NewsNationalNEWS

जानिये, रात दो बजे नामचीन शायर मुनव्वर राऩा के घर क्यों पहुंची पुलिस, पुलिस पर अभद्रता का आरोप

Lucknow: पारिवारिक जमीनी विवाद में नामचीन शायर मुनव्वर राऩा के लखनऊ स्थित पर आवास पर गुरुवार की बात करीब दो बजे उत्तर प्रदेश की पुलिस धमक गई. लखनऊ के हुसैनगंज के लालकुआं में शायर का आवास है. पुलिस शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज को गिरफ्तार करने के लिए पहुंची थी. इस दौरान पुलिस ने आवास का कोना-कोना छान मारा. तबरेज घर पर नहीं लिया. तबरेज के परिजनों का कहना है कि पुलिस ने घर में जमकर तांडव किया और सभी के मोबाइल फोन छीन लिए. महिलाओं से अभद्रता भी की.

 

28 जून को मुनव्वर राणा के बेटे तबरेज राणा ने रायबरेली में सदर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था. उनका आरोप था कि वह अपनी कार से त्रिपुला चौराहे के पास स्थित पेट्रोल पंप से डीजल लेकर निकल रहे थे तभी एक बाइक पर सवार दो युवकों ने कार पर फायरिंग कर दी. रायबरेली सदर कोतवाल का दावा है कि 28 जून को हुए शायर मुनव्वर के बेटे तबरेज राना जानलेवा हमले का मामला फर्जी था. तबरेज ने खुद अपने प्रतिद्वंदियों को फंसाने के लिए अपने गोली चलवाई थी. पुलिस ने तबरेज की तरफ सर दर्ज कराए गए मुकदमे में उल्टा तबरेज राणा को ही मुलजिम बना दिया है. इसी मुकदमे में तबरेज की गिरफ्तारी को लेकर रायबरेली पुलिस ने गुरुवार रात छापेमारी की है.

 

तबरेज का कहना है कि वह अपनी लाइसेंसी गन लेकर नीचे उतरे तो नकाबपोश बदमाश मौके से भाग गए. तबरेज ने अपने चाचा और चचेरे भाइयों को फसाने के लिए मुकदमा दर्ज कराया था. अब मुकदमे में रायबरेली पुलिस ने तबरेज राना को फर्जी मुकदमा दर्ज कराने, प्रतिद्वंदी को फंसाने और तथ्य छुपाने का आरोपी बना दिया है. इसी मामले में गिरफ्तारी के लिये पुलिस पहुंची थी.

 

इसके बाद रायबरेली पुलिस तबरेज राणा की तलाश कर रही है। इसी सिलसिले में गुरुवार देर रात लखनऊ में हुसैनगंज स्थित FI टावर के ढींगरा अपार्टमेंट में छापेमारी की गई।

Related Articles

Back to top button