GiridihJharkhandLead News

जानिये हजारीबाग रोड स्टेशन पर ट्रेन पहुंचते ही क्यों इमोशनल हो गये लोग, ट्रेन चालक को दिया बुके

  • लॉकडाउन में बंद होने के बाद सोमवार से हजारीबाग रोड स्टेशन से शुरू हुआ इंटरसिटी का परिचालन
  • गिरिडीह के पारसनाथ स्टेशन में मंगलवार से शुरू होगा आधा दर्जन नये ट्रेनों का परिचालन
  • किसी भी ट्रेन में नहीं होगा जेनरल कोच

Giridih : अनलॉक की प्रकिया के बाद धनबाद रेल मंडल के अंतर्गत गिरिडीह के हजारीबाग रोड रेलवे स्टेशन में सोमवार से धनबाद-गया इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव शुरू हुआ. लॉकडाउन के बाद पारसनाथ-हजारीबाग-गया रूट पर दर्जन भर से अधिक सुपरफास्ट और एक्सप्रेस ट्रेनों के ठहराव को बंद कर दिया था. लेकिन, अनलॉक की प्रकिया के साथ ही जिले के इन महत्पूर्ण स्टेशनों से एक बार फिर रेलवे ने ट्रेन परिचालन शुरू कर दिया है.

सोमवार को जब धनबाद-गया एक्सप्रेस हजारीबाग रोड स्टेशन पर रुकी, तो स्थानीय लोगों में काफी उत्साह दिखा. इस दौरान स्थानीय लोगों ने ट्रेन के पायलट को बुके देकर स्वागत किया. जबकि, सोमवार को ही एक दिन के लिए पूजा स्पेशल ट्रेन हटिया से सहरसा एक्सप्रेस का ठहराव पारसनाथ रेलवे स्टेशन पर हुआ. सोमवार को यात्रियों को उतारने के बाद डाउन लाइन में यही ट्रेन रात के दो बजे पारसनाथ स्टेशन पहुंचेगी.

इसे भी पढ़ें –कृषि मंत्री ने रिसालदार बाबा के मजार पर की चादरपोशी, शिक्षा मंत्री के स्वस्थ होने की कामना की

मंगलवार से पारसनाथ स्टेशन से आधा दर्जन ट्रेनें चलेंगी

इधर, रेलवे बोर्ड की स्वीकृति के बाद पारसनाथ-गया और हजारीबाग रोड स्टेशन पर मंगलवार से करीब आधा दर्जन ट्रेनों का परिचालन शुरू किया जायेगा. पारसनाथ स्टेशन प्रबंधक अविनाश कुमार के मुताबिक, सोमवार से हजारीबाग रोड स्टेशन पर इंटरसिटी का ठहराव हुआ, तो अब मंगलवार से धनबाद-गया गंगा-दामोदर शुरू होगी.

गंगा-दामोदर देर रात करीब 23:55 बजे पारसनाथ स्टेशन पर रुकेगी. वहीं, अन्य ट्रेनों में हटिया-पटना और हटिया इस्लामपुर भी खुलेगी. धनबाद डिवीजन से मिली जानकारी के अनुसार रेलवे ने एक ट्रेन का परिचालन अब हटिया से इस्लामपुर तक कर दिया है. मंगलवार से ही रांची-पटना के लिए जनशताब्दी ट्रेन का परिचालन पारसनाथ रेलवे स्टेशन से शुरू होगा.

जबकि, इससे पहले पारसनाथ रेलवे स्टेशन पर ही गंगा-सतलज, हावड़ा-इंदौर और पुरी-नयी दिल्ली तक चलनेवाली नीलांचल ट्रेन का परिचालन शुरू हो चुका था. इधर, रेलवे बोर्ड ने इन ट्रेनों के परिचालन के साथ कड़ी शर्तें भी लागू कर दीं, जिसमें इनमें से किसी ट्रेन में जेनरल कोच नहीं होगा. सिर्फ थ्री-टियर और आरक्षित कोच ही इन ट्रेनों में होंगे.

इसे भी पढ़ें – आदिवासी/सरना धर्मकोड के लिए केंद्र को प्रस्ताव भेजेगी राज्य सरकार, कैबिनेट ने दी स्वीकृति

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: