Fashion/Film/T.VLead News

जानिये ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा की बबीता जी ऐसा क्या किया जो गिरफ्तारी की मांग हुई टॉप ट्रेंड

मुनमुन दत्ता ने शेयर किया था वीडियो, एक बात से नाराज हो लोग करने लगे ट्रोल

Mumbai : टीवी का सबसे पॉपुलर कॉमेडी शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah)’ की बबीता जी यानी मुनमुन दत्ता सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं. उनकी सुंदरता लोगों को दीवाना बना देती हैं.

वह अपने सोशल नेटवर्किंग साइट इंस्टाग्राम और ट्विटर पर आए दिन अपनी तस्वीरें और वीडियोज शेयर करती रहती हैं. ऐसे में रविवार को उन्होंने अपना एक वीडियो शेयर किया था, जो उनके चाहने वालों को बिलकुल भी पसंद नहीं आया और आखिरकार उन्हें ट्रोल का सामना करना पड़ रहा है.

advt

इसे भी पढें :मानो या ना मानो : महिला का दावा, 52 बार किडनैप कर ले गये एलियंस

#ArrestMunmunDutta ट्विटर पर कर रहा है टॉप ट्रेंड

दरअसल, मुनमुन जल्द ही यूट्यूब पर आने वाली हैं इसके लिए उन्होंने रविवार को एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें उन्होंने कहा था, ‘मैं यूट्यूब में आने वाली हूं, इसलिए मैं अच्छा दिखना चाहती हूं, मैं भंगी की तरह नहीं दिखना चाहती हूं.’

इसमें मुनमुन की भंगी वाली बात लोगों को पसंद नहीं आई और दलित समुदाय के लिए जातिसूचक शब्‍द का इस्तेमाल किए जाने पर लोग उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल कर रहे हैं.

इतना ही नहीं, लोग उनकी ट्विटर पर मुनमुन की गिरफ्तारी की मांग भी कर रहे हैं. इस वक्त ट्विटर पर #ArrestMunmunDutta टॉप ट्रेंड कर रहा है, हालांकि मुनमुन ने अपनी गलती को स्वीकार भी कर लिया है.

मुनमुन ने अपने ट्विटर पर एक ट्वीट कर लोगों से माफी मांगी है. ‘यह एक वीडियो के संदर्भ में है ज‍िसे मैंने कल पोस्‍ट किया था, जहां मेरे द्वारा इस्‍तेमाल क‍िए गए एक शब्‍द का गलत अर्थ लगाया गया है.

यह अपमान, धमकी या क‍िसी की भावनाओं को चोट पहुंचाने के इरादे से कभी नहीं कहा गया था. मेरी भाषा के अवरोध के कारण, मुझे सही मायने में शब्‍द का अर्थ के बारे में गलत जानकारी थी.

इसे भी पढें :तीसरी लहर से निपटने की कार्ययोजना बना रही है सरकारः हेमंत सोरेन

माफी भी मांगी

मुनमुन ने लिखा है कि एक बार जब मुझे इसके अर्थ से अवगत कराया गया तो मैंने तुरंत उस भाग को न‍िकाल द‍िया है. मेरा हर जाति, पंथ या ल‍िंग से हर एक व्‍यक्ति के ल‍िए अत्‍यंत सम्‍मान है और समाज या राष्‍ट्र में उनके अपार योगदान को मैं स्‍वीकार करती हूं.

मैं ईमानदारी से हर एक व्‍यक्ति से माफी मांगना चाहती हूं जो शब्‍द के उपयोग से अनजाने में आहत हुए हैं और मुझे उसके लिए खेद है.’

इसे भी पढें :बिरसा जीवन आयुष प्रोग्राम :  होम आइसोलेशन में रहनेवाले मरीजों के घरों तक पहुंचाया जायेगा किट 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: