JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

जानिये, क्या हुआ जब हवलदार ने रांची के एसएसपी को ई-पास के लिये रोक दिया

Ranchi : कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिये झारखंड में स्वास्थ्य सुरक्षा के नाम पर सख्त पाबंदियां लागू है. खासकर आवाजाही पर लगाम लगाने के मकसद ई-पास अनिवार्य किया गया है. पुलिस व प्रशासन व्यवस्था को बनाये रखने के प्रति संवेदनशील भी है.

इसी बीच व्यवस्था की जायजा लेने के लिये एसएसपी सुरेंद्र झा मंगलवार की देर शाम मुरी के समीप बंगाल बार्डर पहुंचे थे. वह शादे लिबास में थे. एसएसपी औचक निरीक्षण के लिहाज से निकले थे. रास्ते में स्वर्ण रेखा नदी के पुल पर पुलिस ने चेकिंग लगाया था.

इसे भी पढ़ें :‘कभी खुशी कभी गम’ से ‘बाबा का ढाबा’ जाने के लिए भी बन जाता है ई-पास, ऐसे बन रहा मजाक

advt

मुरी ओपी के हवलदार जनार्दन मंडल मौके पर तैनात थे. इन्होंने एसएसपी की गाड़ी को ई-पास के लिये रोक दिया. और तब तक रोके रखा जब तक पूरी तसल्ली नहीं हो गई कि गाड़ी में एसएसपी हैं. हवलदार के इस व्यवहार से खुश होकर एसएसपी सुरेंद्र झा ने ग्रामीण एसपी को हवलदार को पुरस्कृत करने के लिये कहा. ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने हवलदार जनार्दन मंडल को तत्काल पुरुस्कार के रूप में 500 रुपये दिए.

इसे भी पढ़ें :वीना जॉर्ज और शैलजाः जानिए, सोशल मीडिया में क्यों चर्चा में हैं केरल की ये दो महिलाएं

adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: