Corona_UpdatesJharkhandRanchi

जानिये टीम प्रन्यास के डॉक्टरों से कैसी जानकारी ले रहे हैं लोग और क्या है उनका जवाब…

Ranchi : कोरोना का कहर सिटी में जा रही है. ओपीडी लगभग बंद है. ऐसी स्थिति में कोरोना से संक्रमित और ठीक हो चुके लोगों को सलाह देने के लिए टीम प्रन्यास ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया.

जहां सुबह से लेकर रात तक डॉक्टरों की टीम मरीजों को कंसल्ट करने के अलावा उन्हें दवाएं भी प्रेसक्राइब रही है. इसके अलावा लोग डॉक्टरों से सवाल भी पूछ रहे हैं और डॉक्टर भी उन्हें जवाब रहे हैं.

advt

वैक्सीनेशन से जुड़े सवाल पर टीम प्रन्यास के डॉक्टरों ने कहा कि वैक्सीन लगवा चुके लोग भी अगर संक्रमित होते भी हैं तो उनके फेफड़ों पर उतना बुरा असर नहीं पड़ता. वहीं पेशेंट रिकवर तेजी से करता है.

इसे भी पढें :नहीं रहे रिटायर्ड आइजी आरईवी कुजूर

हर दिन 600 लोग कर रहे कॉल

टीम द्वारा जारी किये गये हेल्पलाइन पर झारखंड के अलावा भी कई राज्यों से फोन किये जा रहे हैं. पिछले 7 दिनों से रोज़ाना डॉक्टर 12 घंटे परामर्श दे रहे हैं और प्रतिदिन 500-600 लोगों को इसका लाभ मिल रहा है.

इसे भी पढें :संकट के समय हमने विपक्ष होने का ‘राजधर्म’ निभाया, भाजपा ने अहंकार दिखाया: कांग्रेस

ये सवाल पूछ रहे

सवालः मेरी बेटी को कोविड हुआ था अब वो ठीक हो चुकी है. अब उसकी डाइट पहले से बढ़ गयी है, यह कोई चिंता की बात तो नहीं है?

जवाबः कोविड के बाद डाइट बढ़ना कोई चिंताजनक लक्षण नहीं है. कोविड के दौरान शरीर में कमजोरी आ जाती है. ऐसे में अगर उसकी डाइट बढ़ गयी है तो आप बस यह ध्यान दें कि डाइट हेल्दी हो और उसमें प्रोटीन की मात्रा पर्याप्त हो. इसके साथ 15 दिन बाद प्लेटलेट्स का दोबारा टेस्ट जरूर करवा लें.

सवालः मेरी बहू कोविड पॉजिटिव हो गयी है, उसकी एक महीने की बच्ची है. क्या उसकी भी जांच करवानी चाहिए?

जवाबः बच्चे के तापमान पर नजर रखें. आम तौर पर इतने छोटे बच्चों में संक्रमण की आशंका काफी कम होती है. बच्चे को बुखार या कोई लक्षण होने पर डॉक्टर के परामर्श पर दवाएं दी जा सकती हैं, लेकिन अपने मुताबिक कोई भी दवा बच्चे को न दें.

सवालः क्या कोविड पॉजिटिव व्यक्ति के कपड़ों के साथ अन्य लोगों के कपडे धोये जा सकते हैं?

जवाबः कपड़ों को गरम पानी में डिटर्जेंट के साथ आधा घंटा भिगो दीजिये. उसके बाद वॉशिंग मशीन में सभी के कपड़ों के साथ धोये जा सकते हैं. डब्ल्यूएचओ समेत कई संस्थाओं ने बैग पकड़ने या कपड़े छूने से वायरस ट्रांसमिशन न होने की बात कही है.

सवालः मुझे पहली डोज कोविशील्ड लगी है, क्या दूसरी डोज कोवैक्सीन ले सकते हैं?

जवाबः आपको दूसरी डोज भी कोविशील्ड ही लगनी चाहिए. यदि आप कोवैक्सीन लगवाना चाहते हैं तो फिर आपको दोनों डोज कोवैक्सीन की ही लेनी चाहिए.

सवालः मेरी पत्नी को 2 दिन पहले वैक्सीन लगी है, बच्चा दो साल का है. क्या वो दूध पिला सकती है?

जवाबः अगर वैक्सीन के बाद किसी प्रकार का कोई बुखार या दिक्कत नहीं है तो वो बच्चे को दूध पिला सकती हैं.

सवालः मेरी पत्नी संक्रमित हो गयी है, बच्चा तीन महीने का है. क्या वो उसे दूध पिला सकती है?

जवाबः ऐसी हालत में मां बच्चे को ग्लब्स और मास्क पहन कर दूध पिला सकती है. बेहतर हो कि दिन में जब भी दूध पिलायें तो इन सावधानियों के साथ अपने कपड़े भी बदल लें. रात में बच्चे को पिलाने के लिए अपना दूध किसी बर्तन में रख लें, ताकि रात में इन तमाम एहतियात के चलते ज्यादा परेशानी न हो.

सवालः मैं कोविड संक्रमण से ठीक हो चुका हूं, लेकिन परिवार में कई लोग अब भी संक्रमित हैं. क्या मुझे दोबारा संक्रमण हो सकता है?

जवाबः अगर ऐसा है तो घर पर आप डबल मास्क लगा कर रहिए. भाप लेते रहिए और परिवार के संक्रमित सदस्यों से दो गज की दूरी बनाते हुए उनकी मदद करते रहिए. आम तौर पर घर में एक सदस्य के ठीक होने के बाद बाकी सदस्यों से उसे दोबारा संक्रमित होने की आशंका कम होती है, लेकिन एहतियात बरतना बेहतर होगा.

इसे भी पढें :पप्पू यादव बोले- मुझे कोरोना पॉजिटिव कर मरवा देंगे नीतीश कुमार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: