BusinessNational

जानिये एक शातिर ने कैसे रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी को लगाया लाखों का चूना

प्रवर्तन निदेशालय ने उसकी कंपनी की 4.87 करोड़ रुपये की सम्पत्ति कुर्क

विज्ञापन

Mumbai : हमारे देश में शातिरों की कोई कमी नहीं है. लोग फर्जीवाड़ा कर लोगों को ठगने के लिए भांति भांति की चालबाजी करते हैं. एक आदमी ने देश के सबसे अमीर आदमी मुकेश अंबानी को ही चूना लगा दिया है. अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने उस शातिर आदमी की कंपनी की 4.87 करोड़ रुपये की सम्पत्ति कुर्क की है.

कौन है वो आदमी क्या है कंपनी का नाम

फर्जीवाड़ा करनेवाले ठग का नाम कल्पेश दफ्तरी है. उसकी कम्पनी का नाम संकल्प क्रिएशन प्राइवेट लिमिटेड है. कल्पेश दफ्तरी इसका डायरेक्टर है. कुर्क की गयी सम्पत्ति में मुंबई में स्थित एक व्यावसायिक परिसर के अलावा राजकोट में स्थित चार कमर्शल प्रॉपर्टी भी शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें : ओला और उबर टैक्सी चालक 72 घंटे की हड़ताल पर, यात्रियों की बढ़ी परेशानी

13 लाइसेंसों का फ़र्जीवाड़ा किया

ED का आरोप है कि कल्पेश दफ़्तरी ने कुछ लोगों के साथ मिलकर विशेष कृषि और ग्रामोद्योग योजना के साथ 13 लाइसेंसों का फ़र्जीवाड़ा किया.

और उन्हें हिंदुस्तान कॉन्टिनेंटल लिमिटेड नाम की कम्पनी के चालान के तहत रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड को बेच दिया. कल्पेश के साथ इस घोटाले में नियाज़ अहमद, पीयूष वीरमगामा, विजय गढ़िया आदि के भी नाम लिए जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : दक्षिणी झारखंड में बढ़ेगी ठंड, अन्य जिलों में मौसम रहेगा शुष्क

6.8 करोड़ रुपये आरोपियों को मिले

ED के मुताबिक़, जांच में यह भी पता चला कि विभिन्न कंपनियों के खातों में 13 विशेष कृषि और ग्रामोद्योग योजना लाइसेंस बेचने के लिए 6.8 करोड़ रुपये आरोपियों को मिले थे. इस रकम को कई कंपनियों में घुमाया गया. मतलब एक कम्पनी से पैसा दूसरी कम्पनी तक. फिर इस पैसे का उपयोग कल्पेश दफ्तरी और अन्य लोगों ने किया.

न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक़, ED ने इस बाबत आधिकारिक प्रेस रिलीज़ भी जारी की. इसमें ED ने कहा है कि CBI ने FIR दर्ज की थी. CBI ने IPC की धोखाधड़ी आदि की धाराओं के तहत केस दर्ज किया था. उसके बाद ED ने ये जांच शुरू कर सम्पत्ति कुर्क की है.

इसे भी पढ़ें- जानिए बिलाल ने सूफिया से किस बात का लिया बदला, बीवी ने क्यों दिया साथ

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: