न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मंडल डैम तक पदयात्रा कर रहे केएन त्रिपाठी कार्यकर्ताओं के साथ गिरफ्तार

पीएम मोदी को ज्ञापन सौंपना चाहते थे कांग्रेसी नेता

152

Palamu: उत्‍तरी कोयल परियोजना (मंडल डैम) के विस्थापितों को लेकर कांग्रेस द्वारा मंडल डैम से शुरू की जा रही पदयात्रा प्रशासनिक हस्तक्षेप के कारण शुरू नहीं हो सकी. लातेहार जिला के बरवाडीह में कांग्रेस नेताओं को रोके जाने पर चार से पांच घंटे तक सड़क जाम कर जोरदार प्रदर्शन किया गया. बाद में पदयात्रा कर लौटते समय बरवाडीह थाना के सामने कांग्रेस नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया. कांग्रेस नेताओं को गिरफ्तार करने के बाद बरवाडीह थाना में रखा गया है. गिरफ्तारी के दौरान कांग्रेसी नेताओं ने जमकर नारेबाजी की.

केचकी में हुई पुलिस के साथ तीखी नोक-झोंक

इससे पहले पलामू जिले से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ता पदयात्रा शुरू करने के लिए बरवाडीह के मंडल जा रहे थे. रास्ते में केचकी स्थित वन विभाग के चेकनाका के पास पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया. इस दौरान केएन त्रिपाठी और पुलिस के बीच तीखी नोक-झोंक हुई. हालांकि बाद में त्रिपाठी यहां बरवाडीह के लिए निकल गये. बरवाडीह से मंडल जाने वाले रास्ते में जैसे ही पहुंचे कि उन्हें रोक दिया गया.

बरवाडीह से आगे बढ़ नहीं पाये कांग्रेसी

बरवाडीह में सिंचाई विभाग के क्वार्टर के पास कांग्रेसी नेताओं को फिर रोका गया और यहां से उन्हें लातेहार के एसडीओ जय प्रकाश झा और बरवाडीह के एसडीपीओ अमरनाथ ने आगे नहीं बढ़ने दिया. इससे नाराज कांग्रेसी सड़क पर ही बैठक गये और प्रदर्शन करने लगे. केएन त्रिपाठी ने बताया कि यहां करीब चार से पांच घंटे तक आंदोलन किया गया. कई बार प्रशासनिक अधिकारियों से मंडल जाकर संवैधानिक तरीके से पदयात्रा करने का आग्रह किया गया, लेकिन उन्होंने उनकी एक न सुनी. दोपहर करीब एक बजे वे धरना खत्म कर पदयात्रा करते हुए वापस बरवाडीह लौटने लगे, लेकिन बरवाडीह थाना के समीप उन्हें तीसरी बार रोका गया और गिरफ्तार कर लिया गया.

किसी आग्रह को प्रशासन ने नहीं माना: त्रिपाठी

केएन त्रिपाठी ने बताया कि गिरफ्तारी के दौरान जब उनकी ओर से पूछने की कोशिश की गयी कि उन्हें किसलिए गिरफ्तार किया जा रहा है तो प्रशासनिक अधिकारियों ने उन्हें सिर्फ इतना बताया कि आदेश है. त्रिपाठी ने यह भी कहा कि उनकी मंशा प्रधानमंत्री के कार्यक्रम का विरोध करना नहीं, बल्कि उन्हें मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपना है. वे शांतिपूर्ण तरीके से ज्ञापन सौंपना चाहते हैं. मौके पर त्रिपाठी द्वारा लातेहार एसपी से भी दूरभाष पर बात की गयी, लेकिन साकारात्मक जवाब उन्हें नहीं मिला.

कौन-कौन हुए गिरफ्तार

गिरफ्तार किए गए कांग्रेसी नेताओं में पार्टी के जोनल कार्डिनेटर भीम कुमार, पलामू जिला अध्यक्ष जैश रंजन पाठक उर्फ बिट्टू, अमृत शुक्ला, मुनेश्वर उरांव, विजय चौबे, महिला मोर्चा की पलामू अध्यक्ष पूर्णिमा पांडेय, पप्पू अजहर, कैसर जावेद, विमला कुमारी, अभिषेक तिवारी सहित दर्जनों शामिल हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: