Lead NewsMain SliderNationalNEWS

 किसान आंदोलन : कोई 300 km पैदल तो कोई 11 दिनों तक साइकिल चलाकर पहुंचा बार्डर

26 जनवरी को सौ किमी की दायरे में निकलेगी ट्रैक्टर परेड

New delhi : आखिरकार किसान संगठनों व दिल्ली पुलिस के बीच गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में ट्रेक्टर परेड निकालने पर सहमति बन गयी. किसान करीब 100 किलोमीटर के दायरे में निकाली जाएगी. परेड जहां से चलेगी, वहीं आकर खत्म होगी. इसके लिए पांच रूट सिंघु, टीकरी, गाजीपुर (यूपी गेट), शाहजहां बार्डर और पलवल तय किए गए हैं.

 

इस बीच अलग-अलग जगहों से किसानों का दिल्ली बार्डर पर पहुंचना जारी है. इस बीच योगेंद्र यादव ने बताया अलग-अलग बार्डर से अलग-अलग परेड निकाली जाएगी. ट्रैक्टर पर झांकी भी होगी. परेड में शामिल कोई किसान दिल्ली में नहीं रुकेंगे. जिस स्थल से परेड में शामिल होंगे सभी को उसी जगह पर वापस पहुंचना है.

इसे भी पढ़ेंः लालू प्रसाद दिल्ली एम्स के कार्डियक सेंटर में भर्ती, डॉक्टरों की टीम ने शुरू किया उपचार

इस बीच पंजाब के भटिंडा जिले से 300 किलोमीटर पैदल चलकर पति-पत्नी किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए टिकरी बार्डर पहुंचे हैं. भटिंडा जिले के फतेहाबाद से टिकरी बार्डर आए लवप्रीत सिंह ने बताया कि वे 10 जनवरी को अपने गांव से निकले थे. इस बीच में उन्होंने गांव-गांव में लोगों को किसान आंदोलन के बारे में बताया.

 

इसी तरह बिहार के सीवान जिले के रहने वाले सत्यदेव मांझी लगातार 11 दिन साइकिल चलाकर दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर पहुंचे हैं. टिकरी पहुंचने के बाद उन्होंने कहा, ‘सीवान से यहां तक आने में 11 दिन लगे हैं. इन्होंने सरकार से अपील की है कि कृषि कानूनों को वापस ले ले.

 

इधर, भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि ट्रैक्टर मार्च को लेकर यूपी गेट बॉर्डर पर किसानों का जत्था लगातार आ रहा है. उन्होंने दावा किया कि गणतंत्र दिवस पर करीब तीन लाख ट्रैक्टर दिल्ली की सड़कों पर उतरेंगे. टिकैत ने कहा कि आंदोलन स्थल पर अराजक तत्वों पर खास नजर है. इसके लिए 500 वॉलंटियर को लगाया गया है, जो सभी लोगों की तलाशी लेंगे. दावा किया कि किसान शांतिपूवर्क ट्रैक्टर मार्च करेंगे। किसी भी अराजक स्थिति के लिए पुलिस जिम्मेदार होगी.

इसे भी पढ़ेंः कश्मीरियतः मुस्लिमों ने पंडित का शव 10 किमी बर्फ पर पैदल चलकर पहुंचाया घर, कराया अंतिम संस्कार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: