न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

खूंटी : जवानों की वापसी के बाद अब तीनों इंसास राइफलें भी बरामद

531

Khunti : सांसद कड़िया मुंडा के अपहृत चार हाउस गार्ड की आज सुबह सकुशल वापसी के बाद अब उन जवानों से लूटी गयीं तीनों इंसास राइफलें भी बरामद कर ली गयी हैं. पुलिस ने शुक्रवार को ही जिले के घाघरा गांव में सघन सर्च अभियान चलाकर उक्त तीनों इंसास राइफलों को बरामद किया. इसके अलावा पुलिस ने कुछ मैगजीन और वर्दी भी बरामद की हैं.

इसे भी पढ़ें- खूंटी सकंट सरकार से हुई चूक, सरकार का सूचनातंत्र एवं प्रशासनिक तंत्र विफल : प्रदीप यादव

सुबह में ही हुई थी अपहृत जवानों की सकुशल वापसी

सकुशल लौटे जवान
सकुशल लौटे जवान.

गौरतलब है कि इससे पहले मंगलवार को पत्थलगड़ी समर्थकों द्वारा अगवा किये गये पुलिस के चार जवान  शुक्रवार की सुबह मुक्त हुए. चारों जवान भाजपा सांसद कड़िया मुंडा के हाउस गार्ड के रूप में तैनात थे. यहीं से ग्रामीणों ने उन्हें अगवा कर लिया था. खूंटी के आईजी अभियान आशीष बत्रा ने चारों जवानों की सकुशल रिहाई की पुष्टि की है. आईजी ऑपरेशन आशीष बत्रा ने बताया कि शुक्रवार तड़के चार बजे के लगभग सूचना मिली थी कि खूंटी के ही पुटीगढ़ा गांव में चार  जवानों को रखा गया है. इस सूचना के बाद आईजी, डीआईजी, एसपी सहित भारी संख्या में फोर्स पुटीगढ़ा गांव पहुंची, जहां पुलिस की भारी संख्या देख पत्थलगड़ी समर्थक वहां से भाग निकले, जिसके बाद जवानों को सकुशल मुक्त करा लिया गया. दरअसल, पत्थलगड़ी समर्थक पुलिस द्वारा हिरासत में लिये गये ग्रामीणों की रिहाई की मांग कर रहे थे. साथ ही कहा था कि ग्रामीणों की रिहाई पर ही सांसद के अंगरक्षकों को छोड़ा जायेगा.

इसे भी पढ़ें- खूंटीः करीब 72 घंटे बाद रिहा हुए सांसद कड़िया मुंडा के आवास से अपहृत चार जवान

जवानों को ढूंढने के लिए घर-घर की ली गयी थी तलाशी

उल्लेखनीय है कि 26 जून की दोपहर को अगवा हुए जवानों की बरामदगी को लेकर पुलिस लगातार ऑपरेशन चला रही थी. इस दौरान पुलिस ने घाघरा गांव में ऑपरेशन चलाया. घर-घर तलाशी ली गयी,  लेकिन सुरक्षा गार्ड नहीं मिले. पुलिस ने  अपहृत जवानों की सूचना देनेवाले को पांच लाख का इनाम देने की भी घोषणा की थी. एक ओर जहां जवानों के अगवा होने से परिजन दहशत में थे, वहीं पुलिस एसोसिएशन में भी नाराजगी थी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: