JharkhandKhunti

खूंटी : अल्पसंख्यक विद्यालयों के शिक्षकों को आवंटन के बाद भी सात माह से वेतन नहीं , सीएम से गुहार

Ranchi : खूंटी जिले के अल्पसंख्यक विद्यालय के शिक्षाकर्मियों का 7 माह से वेतन बकाया है. इस बीच कई महत्वपूर्ण त्योहार भी पार हो गये, लेकिन वेतन भुगतान नहीं होने से सरकारी मान्यता प्राप्त अल्पसंख्यक विद्यालय के शिक्षकों की आर्थिक स्थिति दिन ब दिन खराब होती जा रही है. शिक्षक खुद अपने बच्चों की फीस भी नही भर पा रहे हैं.

अल्पसंख्यक विद्यालय के शिक्षकों का वेतन भुगतान नहीं होने पर सीएम से की शिकायत

झारखंड विकास मोर्चा के खूंटी जिला अध्यक्ष दिलीप मिश्रा ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि खूंटी जिले के सभी सरकारी मान्यता प्राप्त अल्पसंख्यक प्राथमिक एवं मध्य विद्यालयों के शिक्षकों को आवंटन मिलने के बावजूद 7 माह से वेतन भुगतान नहीं किया गया है. वेतन भुगतान नहीं होने से सभी शिक्षक परेशान हैं. दुकानदार परेशान कर रहे हैं, बच्चों की पढ़ाई बाधित है .

वह दूसरों के बच्चों को पढ़ा रहे हैं और खुद के बच्चों का फीस जमा नहीं कर पा रहे है. झारखंड अल्पसंख्यक एवं सहायता प्राप्त मध्य विद्यालयों के शिक्षकों ने 30 अक्टूबर 2019 को जिला शिक्षा अधीक्षक खूंटी से मिलकर बकाया वेतन भुगतान की मांग की थी. इसके बाद भी जिला के स्तर पर कोई कार्रवाई नहीं की गयी.

advt

इसे भी पढ़ें : ट्विटर पर CM हेमंत सोरेन सुन रहे जनता की फरियाद, कोडरमा घटना पर कार्रवाई का दिया निर्देश    

स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के पत्र का बाद भी वेतन भुगतान नहीं

स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के सचिव निदेशक द्वारा 2019 में ही आवंटन उपलब्ध कराने के लिए पत्र जिला को पत्र भेजा गया था. इसके बावजूद वेतन भुगतान नहीं किया गया . स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के वेतन भुगतान का निर्देश 25 सितंबर 2019 के पत्र भेज कर दिया गया था. पर खूंटी जिले में उनके पत्र का कोई महत्व नहीं समझा गया और वेतन भुगतान नहीं किया गया मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में दिलीप मिश्रा ने कहा है कि खूंटी के शिक्षकों का वेतन भुगतान कराने की कृपा करें

इसे भी पढ़ें : बिना प्रोफेसर के चल रहे हैं डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी विवि के 28 विभाग

वेतन भुगतान रोकने वाले पदाधिकारियो पर हो कार्रवाई : दिलीप

दिलीप मिश्रा ने न्यूज विंग से बातचीत में कहा कि बगैर वेतन के सभी शिक्षक और कर्मचारी अपने त्योहार नहीं मना पा रहे. वेतन भुगतान से वंचित रखने में शिक्षा विभाग के जो भी पदाधिकारी, चाहे वह जिला शिक्षा अधीक्षक हों या जिला शिक्षा पदाधिकारी खूंटी, इस पर जांच कर उनके विरुद्ध कार्यवाही करनी चाहिए.

adv

इसे भी पढ़ें : #TerrorFunding मामले में NIA ने रांची के दो ट्रांसपोर्टरों को किया गिरफ्तार

 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button