JharkhandKhunti

खूंटी: नक्सलियों ने पोस्टरबाजी कर  कहा – सरकारी साजिश के खिलाफ जनता एकजुट हो करे आंदोलन

Khunti: पुलिस की कार्रवाई से नक्सली बैकफुट पर हैं. इससे बौखलाये नक्सली पोस्टरबाजी कर दहशत फैलाने का काम कर रहे हैं. इसी दौरान गुरुवार को अड़की थाना क्षेत्र नौढ़ी, पुरनाडीह, बुधुडीह समेत आसपास के गांव और सड़कों पर पोस्टरबाजी की है. जानकारी के अनुसार, पोस्टरबाजी की सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस पहुंचकर पोस्टर को जप्त कर आगे की कार्रवाई में जुट गयी है.

इसे भी पढ़ें –लातेहार : टीपीसी उग्रवादी ने फेंका पर्चा, कहा-जेजेएमपी नाम से चलने वाले गुंडा गिरोह को उखाड़ फेंको

सरकारी साजिश के खिलाफ जनता एकजुट होकर आंदोलन करें

चिपकाये गये पोस्टर में लिखा गया है कि, किसानों की जमीन पर जबरन अधिग्रहण कर डैम, नहर निर्माण, खाद्यह्न फैक्ट्री बनाने के सरकारी साजिश के खिलाफ जनता एकजुट होकर आंदोलन करें.पीएलएफआइ/एसपीओ को भगाने के लिए जनता पीएलजीए में भर्ती हो जायें.

बौखलाये नक्सली अब पोस्टरबाजी कर फैला रहे दहशत

झारखंड पुलिस की कार्रवाई से बौखलाये नक्सली पोस्टरबाजी कर दहशत फैलाने का काम कर रहे हैं. हाल के दिनों में भाकपा माओवादी के द्वारा राज्य के अलग-अलग जिले में पोस्टरबाजी कर दहशत फैलाने का काम किया जा रहा है. गौरतलब है कि राज्य में नक्सलियों की बढ़ती गतिविधि के बाद शुरू हुए झारखंड पुलिस की कार्रवाई से नक्सली संगठन बैकफुट पर हैं.

बताते चलें कि पुलिस द्वारा नक्सलियों के खिलाफ इन दिनों चलाया जा रहा अभियान काफी कारगर साबित हो रहा है. पिछले दो महीने की बात करें तो राज्य में नक्सली घटनाओं में काफी कमी आयी है.

पोस्टरबाजी कर दहशत फैलाने का काम कर रहे नक्सली

19 सितंबर: हजारीबाग में नक्सली संगठन के नाम पर विष्णुगढ़ प्रखंड के खरकी बंदखोर गांव में जगह-जगह पोस्टर चिपकाया गया है. जहां नक्सलियों ने अपनी वर्षगांठ बनाने की अपील की है.

 

19 सितंबर: गिरिडीह के डुमरी निमियाघाट थाना क्षेत्र में नक्सलियों ने पोस्टर बाजी किया था.और कहा था मिशन समाधान 2018 से 2022 को पूरी तरह विफल करे.

 

19 सितंबर : रांची के तमाड़ थाना में नक्सलियों ने कई स्थानों पर पोस्टबाजी की है. नक्सलियों के द्वारा संगठन के 16 वां स्थापना दिवस पर सप्ताहव्यापी अभियान के तहत इलाके में पोस्टर लगाकर चेतावनी दी गयी थी.

 

17 सितंबर : बोकारो के गोमिया थाना क्षेत्र के बैंक मोड़ बस स्टैंड में नक्सलियों ने पोस्टरबाजी की. माओवादियों द्वारा पोस्टरबाजी में लिखा था कि मिशन समाधान 2018 से 2022 को पूरी तरह विफल करें.

 

17 सितंबर: चाईबासा के जिला मुख्यालय में बैनर टांगकर नक्सलियों ने पुलिस प्रशासन की नींद उड़ा दी थी. बैनर लगाकर गांव-गांव में नक्सलियों की फौज खड़ी करने और संयुक्त मोर्चा बनाने की अपील की गयी थी.

 

13 सितंबर: चाईबासा जिले के मनोहरपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत रायडीह पंचायत के बड़पोस गांव में नक्सलियों ने पोस्टरबाजी की थी. भाकपा माओवादियों के दक्षिण जोनल कमेटी के द्वारा गांव में पोस्टरबाजी की गयी थी.

इसे भी पढ़ें –क्या भारतीय टीम में धौनी की जगह ले सकेंगे संजू सैमसन ? 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: