JamshedpurJharkhand

JAMSHEDPUR : शहादत दिवस पर याद किये गये खुदीराम बोस, प्रतिमा पर पुष्पहार अर्पित

JAMSHEDPUR : अमर शहीद खुदीराम बोस की 114वीं पुण्यतिथि शहादत दिवस के रूप में डिमना रोड स्थित बंगबंधु के कार्यालय में धूमधाम से मनाई गई . प्रत्येक वर्ष अमर शहीद खुदीराम बोस की जयंती और शहादत दिवस मानगो गोल चक्कर में लगी उनकी प्रतिमा के सामने मनाया जाता रहा है, लेकिन इस वर्ष मानगो चौक में बन रहे नये गोल चक्कर कारण उनकी जयंती बंगबंधु कार्यालय में मनाई गई. नव निर्माणाधीन गोल चक्कर के कारण जिला प्रशासन द्वारा प्रतिमा बंगबंधु परिवार को रखने दिया गया है.

बंगबंधु कार्यालय में रखी शहीद खुदीराम की प्रतिमा को सर्वप्रथम शाही स्नान कराया गया. उसके बाद उनकी प्रतिमा के सामने दीप प्रज्वलित एवं पुष्पहार अर्पित किया गया. कार्यक्रम में मुख्य रूप से भाजपा नेता विकास सिंह शामिल हुए. विकास सिंह ने श्रद्धासुमन अर्पित करने के बाद अपने संबोधन में कहा कि जिस उम्र में बच्चे पढ़ते, खेलते और नदानी करते है, वैसी 18 वर्ष की आयु में अमर शहीद खुदीराम बोस ने हंसते-हंसते फांसी के फंदे को चूम लिया. उनकी शहादत न केवल भारत को आजादी की ओर ले गई, बल्कि उनकी शहादत को देखकर कई वीर सपूत आजादी के आंदोलन में कूद गये. जिसका परिणाम यह हुआ कि अंग्रेजों को भारत छोड़ना पड़ा. कार्यक्रम में मुख्य रूप से इंद्रजीत घोष, विनोद डे, अपर्णा गुहा, उत्तम गुहा, राजेश राय, प्रणव सरकार, अनंत लाल कुंडू, बापी पात्रों,तुषारिका बोस, समीर दास, गौतम दास, राम सिंह सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे.

ये भी पढ़ें : Raksha Bandhan : ब्रह्र्माकुमारी बहनों ने सीआरपीएफ जवानों को बांधी राख‍ियां

Related Articles

Back to top button